गर्भावस्था के बाद वजन कम करने के उपाय

प्रेगनेंसी में जब महिला की डिलिवरी यानी बच्चे की जन्म दे देती है तो अकसर उसका पेट काफी महीनो तक बड़ा रहता है, उसका वजन आम महिला से कई ज्यादा होता है। वैसे तो वजन काम करने के आसान तरीके हैं लेकिन गर्भावस्था के बाद मोटापा को कम करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है क्यूंकि इस समय वह कोई कठिन एक्सरसाइज या योग नहीं कर सकती है इसके अलावा अपने डाइट में भी बदलाव नहीं कर सकती है।

इसलिए डिलिवरी के बाद वजन कम करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। लेकिन आज हम आपको गर्भावस्था के बाद वजन कम करने के उपाय बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप गर्भवस्था के बाद भी अपने वजन को आसानी से कम कर सकते हैं।

गर्भावस्था के बाद वजन कम करने के उपाय

डिलिवरी के बाद वजन कम करने के उपाय

1. गर्भावस्था के बाद अपने बच्चे को अधिक से अधिक स्तनपान कराएं। इससे न सिर्फ आपके बच्चे को पूरा पोषण मिलेगा बल्कि आपकी कैलोरी भी बर्न होगी। डॉक्टर्स का मानना भी है की स्तनपान कराने से वजन कम होता है।

2. यदि आप चाहती हैं कि बहुत अधिक मेहनत किए बगैर आप अपना वजन कम कर लें तो आपको भारी भोजन लेने की बजाय तरल पदार्थो जैसे जूस, फलों का जूस, सूप, पानी अधिक से अधिक मात्रा मे लेना चाहिए।

3. बाहर के खाने, ज्यादा तले और मसालेदार भोजन करने से बचें। इनके सेवन से वजन ज्यादा बढ़ता है।

4. शुबह शाम हल्के व्यायाम करें इसके अलावा आप टहलना भी शुरू कर सकते हैं।

5. आप शरीर मे पानी की पूर्ति के लिए तरबूज, गाजर, सेब, गाजर जैसे पौष्टिक फलों और सब्जियों का सेवन करें। इतना ही नहीं आपको अधिक से अधिक हरी सब्जियो का सेवन करना चाहिए। इनसे आपके शरीर में काफी फर्क मिलेगा।

6. अगर आप जंक फूड के शौकीन हैं तो इन्हें खाना छोड़ दें। आज के समय में पेट पर चर्बी और मोटापा को बढ़ाने में इनका सबसे अहम रोल है।

7. अपने वजन को कम करने के लिए दवाई लेने की बजाय आप एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर चीज़े लें इनके लिए आप ग्रीन-टी, लेमन टी ले सकती हैं।

8. अगर आप ज्यादा तनाव या चिड़चिड़ा रहती हैं तो कम करें। इससे आपके शरीर पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है।

9. अपने मोटापा को कम करने के लिए शुबह का नाश्ता अच्छा संतुलित करें। दोपहर का भोजन कम करें। नाश्ते में आप दलीय खा सकती हैं।

10. गर्भावस्था के बाद अपने वजन को कम करने के लिए जरूरी है कि आप संतुलित भोजन करें। एक बार ज्यादा ना खाकर भोजन को थोड़ा-थोड़ा करके अलग-अलग समय में खाएं।

उठो और टहलो

बहुत सारी महिलाये विशेषकर जिनकी normal delivery न हुयी हो बच्चे को जन्म देने के बाद बहुत थकी सी होती है उनका शरीर जाम हो गया होता है, ऐसे मताये जब बिस्तर पर एक बार गिर जाये तो उठने का नाम नहीं लेती। लेकिन ये गलत है इससे न आपका वजन काम होगा और न ही आपको भूख लगेगी।

अगर आपको अपने पेट को काम करना है और ज्यादा वजन से बचना है तो आपको जरूरी है की शुबह 5 या 6 बजे उठकर सवेरे घूमने, योग करने या कोई व्यायाम करने की जरूरत होती है। जिससे आपके मांसपेशियों में खिचाव आता है और खून का संचरण सही तरीके से होता है, साथ ही साथ आपका शरीर पहली अवस्था में चले जाता है। व्यायाम के अलावा आप कार्डियो कर सकती है जिसे आप सप्ताह में ३-४ बार कर सकती है।

स्तनपान कराये

बच्चे पैदा करने के बाद आप वजन को कम करने के लिए अपने बच्चे को स्तनपान करते है ? अगर नहीं तो ये आपकी सबसे भूल है, जी हाँ बच्चे के लिए माँ का दूध बहुत लाभदायक होता है, सबसे ज्यादा पौष्टिक आहार, मिनरल्स बच्चे को माँ के दूध से ही मिलते है जिससे उसका विकास शारीरिक और मानसिक दोनों रूपों से होता है। जहा स्तनपान करने से आपके बच्चे को फायदा होता है वही वजन और मोटापे को काम करने के लिए स्तनपान आपके लिए भी फायदेमंद होता है। स्तनपान करने से अतिरिक्त वसा burn होती है जिससे गर्भवस्था के दौरान फूला हुआ मांस वापस अपनी अवस्था में चला जाता है।

Healthy खाना खाये

पेट को कम करने के लिए है health और पोषक तत्वों से बने भोजन को खाना। ध्यान रखे की ज्यादा मीठा और ज्यादा नमक वाले भोजन को नहीं खाये। ज्यादा नमक और ज्यादा मीठा खाने से हमारे शरीर में चर्बी और वासा की मात्रा ज्यादा बढ़ती है जिसके कारण वजन काम होने की वजय बढ़ता है।

पेट को जल्दी काम करने के लिए आप खाने में काली मिर्च, पुदीना, निम्बू , खीरा इत्यादि को शामिल कर सकती है। इनसे आपके पेट में काफी बदलाव आएगा। इसके अलावा एक बार ज्यादा खाना खाने से अच्छा है की आप खाने को थोड़ा-थोड़ा करके टाइम तो टाइम खाये। इससे आपका blood, sugar और भूख नियंत्रित रहेगी।

Green Tea या नींबू पानी

Green tea के इस्तेमाल से हमारे शरीर में metabolize की प्रक्रिया को रोकते है और उन hormones को ख़तम करने में मदद करता है। यह आपके नवजात शिशु के लिए भी कोई नुकसान वाला नहीं होता है। इसके प्रयोग दिन में ३-४ बार लेने से बहुत फर्क पड़ेगा।

आप रोजाना शुबह उठकर गुनगुने पानी में आधा निम्बू और २ चमच चीनी का मिश्रण करके घोल को पी सकती है। इसके अलावा आप रोजाना दूध में थोड़ा सा चीनी मिलकर पी सकती है ध्यान रखे की दूध में मलाई न हो।

अनावश्यक खाद्य पदार्थों से दूर रहे

वैसे तो fast food, coldrink कभी भी नहीं पीनी चाहिए लेकिन अगर आपको अच्छे लगते है तो अलग बात है लेकिन pregnancy के बाद पेट या मोटापे को कम करना है तो आपको इन चीजों से दूरी रखनी पड़ेगी। इसके अलावा आपको मिठाई या नमकीन भी नहीं खाना चाहिए इनसे आपके पेट में गैस भरती है जो की आपके लिए और खतरनाक हो सकती है।

सलाद या हरी सब्जियां

वजन को काम करने के लिए आप जितना हो सके सलाद खाये या फिर आप हरी सब्जिया खा सकती है। कच्चा खाना हमारे पेट में ज्यादा देर तक स्थिर रहता है जिससे हमें भूख बड़ी देर बाद लगती है। ज्यादातर तली हुयी या भुनी हुई खाद्य पदार्थो से दूरी रखे। क्यूंकि शरीर पोषक तत्वों को सोखता है।

डिलिवरी के बाद योगा और एक्सरसाइज

अब हम आपको ऐसे योग और व्यायाम बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप डिलीवरी के बाद अपने पेट और वजन को जल्दी ही घटा सकते हैं। इन व्यायाम और योग करने से आपका शरीर मजबूत रहेगा। और किसी भी बीमारी का संक्रमण नहीं होगा।

व्यायाम में आप सुबह शाम टहल सकते हैं। एक महीने के बाद वजन कम करने वाले व्यायाम करें। योग आपको हम नीचे बता रहें हैं लेकिन अगर आप वीडियो देखना चाहते हैं तो बाबा रामदेव के योगासन स्टेप्स देख सकते हैं।

सुझाव: प्रेगनेंसी के बाद जल्द ही किसी भी भरी और कठिन व्यायाम को करने से पहले अपने डॉक्टर की राय जरूर लें।

गर्भावस्था के बाद पेट कम करने के घरेलू नुस्खे

अपने वजन को घटाने और मोटापा को कम करने के लिए कुछ महिलाएं जिम या फिटनेस सेण्टर में जाती हैं लेकिन कुछ महिलाओं के पास इतना समय नहीं होता है। वैसे तो आज के समय में बाजार में वजन को कम करने वाले कई पाउडर प्रयाप्त हैं लेकिन ये आपके और आपके बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं। इसलिए हम जो आपको देसी घरेलु नुस्खे बता रहे हैं इनके इस्तेमाल से आप कई गुना वजन को कण्ट्रोल कर सकते हैं।

  • सुबह खाली पेट एक चम्मच शहद, आध चम्मच अदरक, आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर मिलकर एक गिलास गुनगुने पानी के साथ लें। यह ना सिर्फ वजन को कम करेगा बल्कि आपके शरीर को ताकत भी मिलेगी।
  • 3-4 इंच दालचीनी और 2-3 लौंग लें इसे 6-7 गिलास पानी में उपबालकर इस पानी को छानकर रखे दें। अगर मौसम ठंडा है तो गुनगुना पीएं और अगर गर्मी है तो ठंडा करके पियें। इसके अलावा इस पानी में आप शहद भी मिला सकते हैं।

प्रेग्नन्सी के बाद पेट को कम करने के इससे बेहतरीन तरीके और कोई नहीं हैं। अगर आपको और कोई भी जानकारी चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

डिलीवरी के बाद पेट क्यों बढ़ता है?

महिलाओं में प्रसव के दौरान मांसपेशियों में खिंचाव होता है। उन्ही मांसपेशियां के फैलाव से पेट फूला हुआ नजर आता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here