ताड़ासन योग कैसे करें: विधि, लाभ एवं सावधानियां

नियमित योगा करने से बहुत फायदे होते है, योग से दिमाग में सकारात्मक विचार आते है, साथ ही बिमारियों को दूर कर निरोगी बना जाता है। योग का फायदा तभी मिलता है जब आप इसे सही तरीके से करते हैं। तो आज हम आप योगा के एक और मुद्रा के बारे मे बताने जा रहे है जिसे हम ताड़ासन के नाम से जानते है। यह योगासन लंबाई बढ़ाने के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। ताड़ासन को नियमित रूप करने से पैरों में मजबूती आती है साथ ही पंजे मजबूत होते हैं। इस आसन को करने से पेट और छाती पर भी खिचाव पड़ता है जिससे उनके सभी प्रकार के रोग नष्ट होते है। इसके अलावा और पेट से समन्धित रोगों से भी छुटकारा दिलाता है। तो चलिए जानते हैं ताड़ासन योग मुद्रा कैसे करें और इससे होने वाले फायदे Tadasan Yoga Steps and Benefits in Hindi.

Tadasana Yoga Vidhi aur Fayde ताड़ासन योग विधि, लाभ और सावधानियाँ

ताड़ासन योग विधि Tadasana Yoga Steps in Hindi

Step 1: ताड़ासन खड़े होकर करने वाला एक्सर्साइज़ है। इसे करने के लिए सबसे पहले आप ज़मीन पर एक कंबल बिछाकर सीधे होना है। फिर अपने दोनों पैरों को मिलाकर रखें और हाटों को कमर से सटाकर रखें।

Step 2: इस पोज़िशन में आपका शरीर स्थिर रहना चाहिए। यानी की आपके दोनों पैरों पर शरीर का समान वजन पड़ना चाहिए। अब धीरे-धीरे हाथों को कन्धों के परस्पर ले जाएँ।

Step 3: अब दोनो हथेलियों की उँगलियों को मिलाकर सिर के उप्पर ले जाएँ। अब साँस भरते हुए अपने हाथों को उप्पर की ओर खींचिए जब तक आपको कंधो और छाती में खिचाव महसूस नहीं होने लगे।

Step 4: इसी दौरान पैरों की एड़ियों को भी उप्पर उठायें और सावधानी से पंजो के बाल खड़े हो जाए। अब फिगर लॉक लगाकर हाथों के पंजो को उप्पर की ओर मोड़ दें।

Step 5: इस वक़्त आपकी गर्दन सीधी होनी चाहिए और हथेलियां आसमान की ओर होनी चाहिए। ध्यान रखें कि आपकी पैरों की उँगलियों पर शायर का संतुलन बना रहे।

Step 6: कुछ देर इस अवस्था में रुकने के बाद साँस छोड़ते हुए हाथों को वापस सिर के उप्पर ले जाए और धीरे-धीरे एड़ियों को भी भूमि पर टीका दें और दोनों हाथों को भी नीचे लाते हुए कमर से सटाकर पहले वाली पोज़िशन यानी की विश्राम मुद्रा में आ जाए। इस आसान को नियमित कम से कम 10-12 बार करें।

ताड़ासन योग से फायदे Tadasana Benefits in Hindi

ताड़ासन योग करने से हमारे शरीर को बहुत फायदे होते हैं। कुच्छ ज़्यादा महत्वपूर्ण फायदे हम आपको यह बताने जा रहे हैं।

1. ताड़ासना उचाई को बढ़ाने का सबसे बेस्ट एक्सर्साइज़ है। यह हमारे शरीर की हड्डियों और मांसपेशियों में खिचाव लाता है जिससे हमारी लम्बाई बढ़ने लगती है।

2. अगर इस आसान को सही तरह से अभ्यास करें तो बहुत हद तक पेट की चर्बी को कम किया जा सकता है। पेट की चर्बी ही नहीं यह हमारे शरीर की अनावश्यक वसा को कम करने में महत्वपूर्ण रोल निभाता है जिससे हमारा मोटापा अपने आप कम होने लगता है।

3. अगर आपके नसों या मांशपेशियों में दर्द हो तो आपको ताड़ासन योग करना चाहिए। इससे आपको काफ़ी फायदा मिलेगा।

4. पैरों के एक्सर्साइज़ के लिए ताड़ासन बहुत ही अहम रोल निभाता है। यह सूजन, जलन, सुन्न और झंझनाहट के लिए लाभकारी है।

5. बहुत सारे लोग जो की हर वक़्त कुर्सी पर बैठे रहते हैं जिन्हें चलना नहीं आता उन लोगों को ताड़ासन ज़रूर करना चाहिए। इस योग के अभ्यास से चलने का आइडिया आता है और आपकी और भी प्रॉब्लम्स दूर होती हैं।

6. इस आसान से पीठ का दर्द यूँ ही दूर हो जाता है। अगर इस योग को आप सही तरीके से करें तो आपका पीठ का दर्द हमेशा के लिए ख़त्म हो जाएगा।

7. इस योग को ठीक तरह से करने से आपकी एकाग्रता में बढ़ोतरी होती है। नियमित रूप से इसका अभ्यास करने से शरीर का संतुलन अच्छा एफेक्ट करता है।

8. इस आसन का नियमित रूप से अभ्यास करने से सायटिका का दर्द काफी कम किया जा सकता है।

ताड़ासन में सावधानियां

बहुत से लोग ग़लत तरीके से योग का अभ्यास करते हैं जिसके रिज़ल्ट कुछ भी नहीं आता और वो फिर योगा करना छोड़ देते हैं। तो अगर आपको योगा से फायदा लेना है तो आपको ज़रूर सावधानियां बरतनी होंगी।

  • ताड़ासन योग सिर में दर्द होने पर न करें।
  • प्रेग्नेंट महिला को यह आसन नहीं करना चाहिए।
  • जिनके घुटनों में ज़्यादा दर्द हो उन्हें ये आसन नहीं करना चाहिए।
  • अगर आप इस आसन को करना सिख रहे हैं तो पैरो की उँगलियों पर आकर इस योगासन को न करें।
  • हाइ ब्लड प्रेशर वाले इस आसन से दूर रहें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *