सीताफल के फायदे एवं नुकसान – Custard Apple Sitafal Benefits Side-Effects in Hindi

सीताफल के गुण और चमत्कारी फायदे: सीताफल के मानसूनी फल है जो अगस्त से नवम्बर के आस-पास पुरे भारत में होता है हिंदी महीनों की बात करे तो यह आश्विन से माघ मॉस के बीच आने वाला फल है। सीताफल एक बहुत ही अच्छा स्वादिष्ट फल है जो हमारे शरीर को शीतलता पहुंचता है। यह बाहर से तो बहुत कठोर होता है लेकिन अंदर से काफी नरम और साफ़ होता है। सीताफल को शरीफा अंग्रेजी में Custard Apple के नाम से भी जाना जाता है। यह फल न सिर्फ शरीर को ठंडक पहुंचने के काम आता है बल्कि यह पित्तशामक, रक्तवर्धक, कफ, उलटी बंद करने, वीर्यवर्धक, दिल की बिमारियों के लिए और पौष्टिक तत्वों के लिए लाभदायक होता है। इससे हमारे शरीर में कई फायदे हैं जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानते हैं Sitafal ke Fayde.

सीताफल का इतिहास (Custard Apple History)

कुछ धर्म ग्रंथ इस बात का उल्लेख करते हैं कि वनवास के समय भगवान राम माता सीता के लिए जंगलों में से फल लाया करते थे और एक फल जो सीता माता को बहुत अच्छा लगा उसका नाम उस दिन से सीताफल हो गया

के औषधीय गुण चमत्कारी फायदे एवं नुकसान Custard Apple Sitafal Benefits Side Effects in Hindi
सीताफल के औषधीय गुण  

सीताफल के फायदे – Sitafal ke Fayde

सीताफल में कई ऐसे गुण होते हैं जो शरीर की बिमारियों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं। इसमें फीवर, विटामिन, खनिज तत्वा और प्रोटीन की उच्च मात्रा होती है और इसमें कम वसा की मात्रा होती है। इसलिए यह ह्रदय, उच्च रक्तचाप और त्वचा से जुडी परेशानियों से निजात दिलाने में काफी मदद करता है। 

पौष्टिक गुणों से भरपूर सीताफल में विटामिन C, B1, B2 प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। यह पित्त से समन्धित रोगों को दूर करने में काफी मदद करता है साथ ही शरीर में रक्त की बृद्धि करता है।

दिल को मजबूत बनाये

सीताफल में मौजूद पोटेशियम और मैग्नेशियम ह्रदय को स्वस्थ बनाने में काफी फायदेमंद होता है। इस फल में मौजूद पौष्टिक तत्वा दिल को मजबूत और रोगरहित रखते हैं। सीताफल के उच्च फीवर और प्रोटीन की दमदार मात्रा उच्च रक्तचाप को कम करने और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में बहुत मदद करती है।

सिर में जुओं को मिटाये

सिर में जुएं होने पर हमारे आधे पौष्टिक तत्वा ले जाते हैं। ज्यादातर जुएं बच्चों के सिर पर होते हैं। इन्हे मरने के लिए सीताफल काफी मददगार होता है। इसके लिए आप सीताफल के बीजों का बारीक़ चूर्ण बनाकर पानी के साथ लैप करें और रात को सोने से पहले बालों पर लगा लें। सुबह आप इन्हे अच्छी तरह से धो लें। तीन से चार दिन इस प्रक्रिया को करने के बाद कुछ ही दिनों में आपके सिर से जुएं दूर हो जायेंगे। ध्यान रखें की इसका लेप करते समय कोई भी बूँद आपकी आँखों में न गिरे। इसके बीच से निकलने वाला वाला तेल काफी जहरीला होता है।

शक्ति प्रदान करे

बहुत से लोग आज के ज़माने में काम के प्रेशर से थके, हारे, हताश रहते हैं, जिससे उन्हें दिन या रात का अता-पता नहीं रहता है। ऐसे व्यक्तियों को सीताफल का सेवन करना चाइये। सीताफल से नयी ऊर्जा मिलती है जिससे शरीर की थकावट, हड्डियों की कमजोरी, मांशपेशियां मजबूत होती हैं।

गंजापन दूर करे

जिन लोगों में गंजेपन की शिकायत है या बाल निकलने लगे हैं उनके लिए सीताफल काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको सीताफल के बीज को बकरी के दूध के साथ मिलकर पीसना चाहिए और उसके बाद अच्छे अपने सिर पर मालिश करनी चाहिए। इसका कुछ दिन तक लेप करने से आपके नए बाल उगने शुरू हो जायेंगे। इसके अलावा इससे आपके सिर को ठंडक पहुँचती है। और दिमाग में कोई तनाव नहीं आता है।

Blood Pressure Control करे

जिन व्यक्तियों में Blood pressure अधिक होता है उनके लिए यह फल रामबाण है। मधुमेह से पीड़ित व्यक्तियों को इसका ज्यादा से ज्यादा उपयोग करना चाहिए। इस फल में मौजूद पोटेशियम ब्लड प्रेशर को Control करने में मदद करता है। जिससे हमारा रक्त परिसंचरण सुचारु रूप से काम करता है।

पाचन क्रिया को मजबूत बनाये

अगर आपको कब्ज की समस्या है तो समझ लो आपका पाचन क्रिया सही तरह से काम नहीं कर रहा है ऐसे में आपको सीताफल का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है। सीताफल में मौजूद फीवर हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में काफी मदद करता है। इसके अलावा इसके सेवन से वजन बढ़ने की समस्या दूर हो जाती है।

डायबिटीज की समस्या दूर करे

जिन लोगों को डायबिटीज की समाया है उनके लिए सीताफल काफी उपयोगी फल है। यह हमारे शरीर के कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है जिससे ब्लड शुगर के बढ़ने की आशंका कम हो जाती है और डायबिटीज की समस्या से निजात पाई जाती है।

एनीमिया के रोगियों के लिए उपयोगी

सीताफल में में प्रचुर मात्रा में आयरन और कॉपर पाया जाता है जो शरीर में खून की कमी को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा यह रक्त को साफ़ करने और बढ़ोतरी करने में मदद करता है।

दिमाग को करे तेज

जहाँ दिमाग को तेज करने की बात आये वहां सीताफल का नाम शीर्ष पर आता है क्यूंकि इसमें मौजूद विटामिन बी६ और एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं, जो दिमाग को तेज करने के साथ साथ हमारे ब्रेन को फ्रेश रकने में मदद करते हैं। दिमाग की शांति और अनावशयक टेंशन को दूर करने के लिए सीताफल काफी उपयोगी होता है।

सीताफल के पत्ते त्वचा को बनाये गोरा और चमकदार

सीताफल में मौजूद विटामिन A हमारी त्वचा को स्वस्थ और खूबसूरत बनाने में काफी मददगार होता है। अगर आपके शरीर पर कोई काले निशान हैं तो उन्हें भी दूर करने में शरीफा के काफी असरदार उपयोग हैं।

दमा के रोगियों के लिए फायदेमंद

दमा के रोगियों के लिए सीताफल काफी लाभकारी फल है। सीताफल में विटामिन बी ६ और कई तरह के पौष्टिक पोषक तत्वा होते हैं जो व्यक्ति को होने वाली ब्रोन्कियल सूजन और दमा से रहत दिलाने में काफी मदद करते हैं।

रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाये

शरीफा में कई प्रकार के लिए एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो हमारे शरीर के काफी रोगों से लड़ने की छमता के लिए शक्ति प्रदान करते हैं। ये हमारे शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ने में सहायक होता है। और शरीर हर्षत-पुष्ट और ताकतवर होता है। शरीर में बीमारी का कोई असर नहीं होता है।

सीताफल खाने के नुकसान

Sitafal ke Fayde के साथ – साथ इसको जायदा खाने के कुछ निकसान भी है आप निचे read कर सकते है क्या है इसके नुक्सान.

  • सीताफल का अधिक सेवन करने से पेट की परेशानीयों जैसे दस्‍त, गैस, आंतों में जकड़न आदि की समस्‍याएं हो सकती है।
  • सीताफल के बीजों का सेवन करने से बचना चाहिए। क्‍योंकि इसके बीज जहरीले होते हैं।
  • सीताफल का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। इसके उपयोग से वजन बढ़ सकता है।
  • कुछ लोगों को सीताफल का सेवन करने से एलर्जी हो सकती है। इसलिए ऐसे व्‍यक्तियों को सीताफल के सेवन से बचना चाहिए।

FAQ

Q : सीताफल (Custard Apple) में कौन से विटामिन पाए जाते हैं ?

Ans :  सीताफल में विटामिन सी, विटामिन ए, पोटेशियम, मैगनीशियम आदि पाए जाते हैं ।

Q : सीताफल के पाए जाने वाले बीज के फायदे क्या हैं ?

Ans : बालों को बढ़ाने के काम आते हैं इससे तेल निकालकर बालों में लगाने से बाल अच्छे हो जाते हैं।

Q : सीताफल खाने के फायदे क्या हैं ?

Ans : डायबिटीज, त्वचा, वजन कम करने में फायदा मिलेगा।

Q : सीताफल के नुकसान क्या हैं ?

Ans : इसका जायदा सेवन करने से एलर्जी, पेट की समस्या आदि पैदा हो सकती है।

Q : सीताफल कब खाना चाहिए ?

Ans : खाने के बाद और खाली पेट भी खा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here