बुरी आदतों से छुटकारा पाने के आसान उपाय – Tips to Get Rid Bad Habits in Hindi

किसी बुरी आदत से कैसे पाएं छुटकारा? हर किसी इंसान की life में अच्छी और बुरी आदतें जरूर होती है। लेकिन बुरी आदत इतनी अधिक नहीं होनी चाहिए जिससे शरीर और जीवन पर बुरा असर पड़े। बुरी आदत में शराब, जुआ, झूठ बोलना, सिगरेट, तम्बाकू का सेवन इसके अलावा गंझा का सेवन सब बुरी आदतें हैं।

इन आदतों की लत अगर आपको ज्यादा है तो आपको थोड़ा ज्यादा समय लगेगा इनसे छुटकारा पाने के लिए, लेकिन मुश्किल नहीं है। इसलिए आज हम आपको बुरी आदतों से छुटकारा पाने के आसान उपाय बताएँगे जिनकी मदद से आप इन बुरी आदतों से छुटकारा पा लेंगे और अपनी ज़िन्दगी को ख़ुशी से जी पाएंगे।

Buri Aadat se Chutkara Kaise Paye - Hindi Break Bed Habits

Buri Aadat Ko Kaise Sudhare

बुरी आदत उस समय तो आपको काफी आनंद देगी लेकिन कुछ ही समय में आपपर इनका बुरा असर पड़ने लगेगा। इससे आपको खतरनाक बीमारियां होने लगेंगी जिससे आप अपना पूरा जीवन हॉस्पिटल में बिताओगे यहाँ तक की मौत भी हो सकती है। इसलिए इन बुरी आदतों से छुटकारा पाएं जिससे आप और आपके घरवाले ख़ुशी से जी पाएं। तो जानिए बुरी आदत से छुटकारा पाने के टिप्स इन हिंदी

मन से निर्णय लें 

हमने अकसर बहुत दोस्तों को देखा है वो हर समय ये कहते हैं की कल से यह आदत छोड़ दूंगा लेकिन दूसरे दिन फिर उसी हालत में दीखता है। लेकिन आप वास्तव में इस आदत को छोड़ना चाहते हैं तो आपको अपने मन से निर्णय लेना है कि मैं इस चीज को हाथ नहीं लगाऊंगा।

खुद को चैलेंज करे

वैसे हमने कई बार देखा है की अगर हमें कोई काम चैलेंज के रूप में मिलता है तो हम उस काम को करने के लिए कुछ भी कर सकते है इसीलिए ध्यान रहे की जब आप कोई गन्दी लत या आदत छोड़ना चाहे तो इसके लिए आप खुद को चैलेंज करे ताकि आप उस आदत को जल्दी छोड़ सके।

उन दोस्तों का साथ छोड़ दें

बुरी आदत का आगमन दोस्तों से ही होता है और जब जब वो दोस्त आपके साथ रहेंगे तो आप इस बुरे काम से कभी दूर नहीं हो सकते हैं इससे आपको ज्यादा लत पड़ेगी और आप अपने आपको काबू में नहीं रख पाओगे। इसलिए उन दोस्तों का साथ छोड़कर ऐसे लोगों का साथ रहें जो इन आदतों से दूर रहते हैं। शाम के समय अपने मोबाइल से दूरी बनाये रखें जिससे दोस्त आपको कॉल न कर पाएं।

रूटीन बदलें

यदि काम खत्म करने के बाद शाम को गन्दी आदतों में पड़ जाते हैं तो काम खत्म करने के बाद माता पिता, भाइयों एवं ऐसे लोगो से मिलने जाएं जहाँ इन बुरी आदतों के सेवन करने से नही जा सकते हैं। अपने इष्ट के दर्शन करने धार्मिक स्थल पर जा सकते हैं।

ध्‍यान दूसरी ओर लगाएं

यदि आप काफी फ्री माइंड में रहते हो तो अपने ध्यान को दूसरी तरफ लगाएं कोई नया काम करने की सोचें जिससे आपका समय ऊपर पर बीते और आपके दिमाग में उस काम का संकेत नहीं आये।

Positive रहे

दोस्तों अगर नशे की habit को छोड़ना है तो आपका positive रहना बहुत ज़रूरी है। अगर आप चाहते हो कि आपका ध्यान उन सब नशे मे ना जाए तो खुद को busy रखने के लिए आपने आपको काम मे, sports मे, books मे, movies मे या songs मे busy रखे, बस दोस्तों ध्यान रखे की अकेले ना रहे।

Meditation करें

Meditation एसी चीज़ है जिससे आप लाइफ के हर problems को easily handle करने मे कामयाब होते हो। Meditation body के साथ साथ mind को भी control करना सिखाता है। इसे करने से body के अंदर का खराब tension बाहर निकल जाता है।

यहाँ पढ़ें: शराब से छुटकारा पाने के 6 अचूक एवं कारगर तरीके

यहाँ पढ़ें: Negative Thoughts से छुटकारा पाने के 10 बेहतरीन तरीके

1 COMMENT

  1. विषय:- बुरी आदतों से छुटकारा पाने के आसान उपाय ( Ways To Get Rid Of Bad Habit

    कई लोग इस बात का जवाब जनना चाहते हे की 

    की हम गलत आदतों से केसे बचे?…….

    यदी कोई गलत आदत हमे लग गई हे तो ऊस से 

    केसे छुटकारा पाया जाए?…. ! तो सबसे पेहले हम यह बात समजते हे की इंसान को गलत आदत लगती 

    केसे हे ऊस besic point को हम समझने की

    कोशिश करते हे ! जब भी हम अपने जिंदगी में कोई भी काम Reapet Mode पर करते हे छोटे से स्तर से लेकरं बडे से बडे स्तर पर होती हे तब ऊस बात को हम आदत केहते हे ! Besicaly हम अपणी आदत को Two Parts मे बांट सकते हैं ! (१:- अच्छी आदत (२:- बुरी आदत ! यदी अच्छी आदत हमे लगी हे तो वह बोहात ही अच्छी बात हे ! यदि बुरे कर्मो की आदत हमे लग गई हे तो वह बोहत गलत बात होती हे !

    एक छोटी सी आदत भी हमारे जिंदगी को नुकसान पोहचा सकती हे ! अब Saycology ये हे की बूरी आदत हमे बोहत जलदी लग जाती हे, की ऊस अप्नाना बोहत आसान होता हे, ओर बोहत ज्यादा मेहनत भी नहीं करनी होती हे ! इसलिये वोह हमे जलदी लग जाती हे ! जब हम अच्छी आदत को जिंदगी मे अपणाना चाहते हे तो उसके लिये हमे बोहत ज्यादा कष्ट उठाना पडता हे ! इसलीये वो आदते हमे लेट लगती हे या फिर नही भी लगती हे !

    इस बात को हम एक example से समझने की कोशिश करते हे ! मान लिजिये आप कई दिनो से या फिर कई मेह नो से या फिर कई सालो से जलदी उठणे की कोशिश करने के बावजुद भी आप जलदी नही उठ पाते हे ! अब आपको याहा पर एक आदत devlop करनी हे जो की हो नही रही हे , क्या कारण हे+आदत होती हे जो लेट उठणे की होती हे ओ कई युवा मे देखी गए हे की ओ आसानी से पड जाती हे की उसके लिये कुछ Extra मेहनत नही करनी हे , सिर्फ सोना हे ओर सोते रेहना हे ओर आराम से अपने जिंदगी को असेही चलते रेहना हे ऊसमे थोडा मजा आता हे लेकीन जब जिंदगी मे लक्ष पुरे नही हो पाते हे , कठनाई आती हे मुसिबत आती हे अपनी जिंदगी मे हम कुछ नहीं बन पाते हे ! ओर जब कभी अखेले बेठे होते हे तब अपनी आदतों पर ध्यान देते हे तब सोचते हे की मेरी येह वाली आदत बोहत गलत हे ! 

    इसको सुधारणा हे ओर तब हम ऊस पर काम करना शुरु कर देते हे ! मान लेते हे ठान लेते हे की हमे सुभे पांच बजे उठणा हे , उसमे हमे तकलीफ होगी क्यू?….. , क्यू की ऊस से पेहले हमे let night सोने की आदत हे तो सबसे पेहले उसे कम करना होगा ! 

    क्यू की जलदी तभी उठ पायेंगे जब जलदी सो जायेंगे, मान लीजिये कोई इंसान 12से01 बजे सोयेगा तो ओ 05:00 बजे केसे उठ पायेगा? यादि ओ उठ भी जायेगा तो उसे फिर से सोने की इच्छा होने लगेगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here