बेवफा शायरी इन हिंदी फॉर गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड

प्यार का रिश्ता सिर्फ एक शख्स से नहीं बनता। बल्कि इस रिश्ते में दोनों बराबर हैं। लेकिन जब कोई व्यक्ति उस हाथ को खींच लेता है तो रिश्ता डगमगाने लगता है या टूटने लगता है। जब कोई व्यक्ति अचानक छोड़ देता है, तो उसे बेवफा माना जाता है। उसके अलावा किसी रिश्ते में रहना और किसी अन्य व्यक्ति के साथ इसी तरह के रिश्ते में प्रवेश करना बेवफाई कहलाता है। अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है या कोई आपसे बेवफा हुआ है तो यहां दी गई कुछ शायरियां सिर्फ आपके लिए हैं। आप इन बेवफा पर शायरी को जरूर पढ़े।

बेवफा शायरी

कई तरह के शायरों ने प्यार और मुहब्बत के बारे में बेहतरीन शायरियां कही हैं जो आपके दिल को छू जाती हैं और आप इन शायरियों को अपने प्रेमी को भेज सकते हैं। इन कवियों में बेवफाई के बारे में कुछ कविताएँ हैं क्योंकि कई बार लड़का लड़की को धोखा देता है या लड़की किसी कारण से लड़के को धोखा देती है। निचे मेने ऐसे ही बेवफा शायरी दी है आप उनको पढ़ सकते है।

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,
ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो!

खो गयी मेरी मोहब्बत, बेवफ़ाई के दलदल में,
मगर इन आँखो को अब भी वफ़ा की तलाश है!

हम इश्क़ में वफ़ा करते करते बेहाल हो गए,
और वो बेवफाई करके भी खुशहाल हो गए।

Bewfa Hindi Shayari
Bewfa Hindi Shayari

यह ठीक है, आपको अपना वफा नहीं मिला,
प्रार्थना करूंगा कि आपको कोई बेवफा ना मिले।

कैसी अजीब तुझसे यह Judaai थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे Bewfa भी ना कह सका।

ये Bewfa वफा की कीमत क्या जाने,
है बेवफा गम-ऐ-मोहब्बत क्या जाने,
जिन्हें मिलता है हर मोड़ पर नया हमसफर,
वो भला Pyar की कीमत क्या जाने।

Dil क्या मिलाओगे कि हमें हो गया यक़ीं,
तुम से तो ख़ाक में भी मिलाया ना जाएगा।

मजा चख लेने दो उसे दुसरो की मोहबत का भी,
इतनी चाहत के बाद जो मेरा ना हुआ वो ओरो का क्या होगा।

Dil के दरिया में धड़कन की कश्ती है,
ख़्वाबों की Duniya में यादों की बस्ती है,
मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है,
वफ़ा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।

आज तुम्हारी Yaad ने मुझे रुला दिया,
क्या करूँ तुमने जो मुझे Bhula दिया,
न करते Wafa न मिलती ये सजा,
मेरी वफ़ा ने तुझे Bewfa बना दिया।

हमसे ना करिये बातें यूँ बेरुखी से Sanam,
होने लगे हो कुछ-कुछ Bewfa से तुम।

हम तो तेरे इश्क❤️ के सच्चे खरीदार थे,
तू ही सौदागर धोकेबाज़💔 निकला।

जब तक ना लगे बेवफ़ाई की ठोकर दोस्त,
हर किसी को अपनी पसंद पर नाज़ होता है।

नज़ारे तो बदलेंगे ही ये तो कुदरत है,
अफ़सोस तो हमें तेरे बदलने का हुआ है।

कोई मिला ही नही जिसको Wafa देते,
हर एक ने Dil💔 तोडा
किस-किस को सज़ा देते 😟।

बेवफायी का मौसम भी अब यहाँ आने लगा है,
वो फिर से किसी और को, देख कर मुस्कुराने लगा है।

तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना;
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे;
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर;
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

वफ़ा निभा के वो हमे कुछ दे ना सके,
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए।

यहाँ पढ़े:

आपको मेरे ये बेवफा शायरी इन हिंदी कैसे लगे कमेंट करके जरूर बताये।

मेरा नाम कुलदीप पंवार है में चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ। achisoch पर आपको Self improvement, motivational, Study tips के अलावा Health, Beauty, relationship की भी जानकारी देने की कोशिश करता हूँ।। किसी भी टिप्स या नुस्खे को आजमाने से पहले आप अपने डॉक्टर से जरूर जानकारी लें। मेरा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here