प्रेगनेंसी में कैसे सोएं जानें – गर्भावस्था के दौरान सोने का सही तरीका

प्रेगनेंसी में कैसे सोए – गर्भावस्था में सोने का सही तरीका: गर्भवस्था (pregnancy) मे बहुत सारे कठिन चीज़ो मे से एक है, एक अच्छी नीद का आना. जब कोई महिला गर्भवस्था की अवस्था मे होती है तो उसे बहुत सारी कतिनाइयो का सामना करना पड़ता है. कैसे रहे, कैसे खाना खाए, कैसे सोए. गर्भावस्था (pregnancy) के दौरान अक्सर प्रेग्नेंट महिलाए यह पूछती है कि गर्भावस्था के दौरान कैसे सोना चाहिए यानी pregnancy में सोने का सही तरीका कौन सा है| लेकिन आज हम उन्हे बताने जा रहे है की प्रेगनेंसी में कैसे सोए जिससे आप और आपका बेबी दोनों चैन की नींद ले सके.

गर्भवस्था में सोने के सही तरीके – Pregnancy Me Sone Ka Sahi Tarika in Hindi

एक pregnant महिला को पहली तिमाही मे बहुत नींद आती है और दूसरी और अंतिम तिमाही मे नींद बहुत कम. ऐसा इसलिए क्यूंकि आपके गर्भ पल रहे शिशु के वजन और पेट में पड़ने वाले दबाव, बार-बार पेशाब आने के कारण और अन्य कारणों से होता है| गर्भवस्था मे अगर आपको नींद नही आती है तो इसके लिए आपको सही सोने के तरीक़ो को का अभ्यास करना ज़रूरी है. ऐसे तरीके जिनसे आप आनदायक महसूस करे. हम आपको वही तरीके यहा बताने जा रहे है जिन्हे डॉक्टर अक्सर गर्भवती स्त्रियों को अपनाने की सलाह देते हैं|

पीठ के बल सोना सही है

पहले तिमाही मे आप पीठ के बल सो सकते है इसमे आपको कोई चिंता करने की ज़रूरत नही है. जब आप दूसरे तिमाही मे चले जाते है तो आपको पीठ के बाल सोने से बचना चाहिए. तीसरे तिमाही मे सोने पर गर्भाशय का पूरा भार आपकी पीठ कैवा शिरा ( वह शिरा जो आपके शरीर के निचले हिस्से से रक्त को आपके हृदय तक पहुंचाती है ) पर पड़ता है जिससे आपको बहुत सी परेशानिया हो सकती है जैसे की पीठ दर्द, बवासीर, अपच, सांस लेने में तकलीफ़ और रक्त परिसंचरण में कठिनाई होती है जब गर्भवती महिला के शरीर में रक्त वाहिकाओं में रक्त का प्रवाह कम होने लगता है तो बच्चे के शरीर के महत्वपूर्ण अंगो में रक्त का प्रवाह कम होने लगता है। जिससे माँ और बच्चे दोनों का स्वास्थ्य प्रभावित होता है।

दायी करवट सोना सही है

गर्भवस्था मे दायी हाथ की तरफ सोना पीठ और उल्टा सोने से काफ़ी बेहतर होता है. लेकिन यह उतना सुरक्षित नही है जितना की बायीं तरफ सोने से है इसका कारण यह है कि, आपके दाहिने हाथ पर सोते हुए आपके जिगर पर दबाव डाल सकता है, जो कि ज्यादातर doctor आप को बताते रहते है. अगर फिर भी अगर आपका बाई तरफ़ सोने से थकान या दबाब हो गया हो तो आप थोड़े समय के लिए दायी तरफ करवट ले सकते है.

गर्भावस्था में बायीं करवट

प्रेग्नेंसी में आप जितना भी बाएं करवट सो सके सोए. इससे आपको और आपके पेट मे पल रहे शिशु को स्वस्थ बनाता है. बाई तरफ सोने से आपके और आपके शिशु की body मे रक्त का प्रवाह सही तरीके से होता है. जिससे आप के बेबी को भरपूर ऑक्सीजन और पोषण मिलता है| इससे आपके शरीर के अंदरूनी अंगो मे कम से कम दबाब पड़ता है. बायीं करवट  मे सोने से शीसू को कोई भी चोट लगने के कम से कम chances होते है.

तकिये का इस्तेमाल कैसे करे

गर्भवस्था मे आप बाई तरफ मूह और अपने घुटनो को मोड़कर सो सकते हैं। इस अवस्था मे आपको बहुत तकलीफ़ तो होगी लेकिन अगर आप चाहते है की आपका शिशु स्वस्थ और निरोगी रहे तो आपको ये तो करना ही होगा. आप चाहे तो आप अपने दोनो टाँगो के बीच तकिये का इस्तेमाल कर सकती है. जैसे भी हो आपको आराम और आपके बच्चे को कोई परेशानी ना हो.

ये बेहतर tips pregnancy में सही तरीके से सोने के है, जिससे आप और आपका बच्चा सुरक्षित रह सकता है. अगर आपको कोई problem हो तो आप नीचे दिए comment box से हमें पूछ सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here