नाशपाती खाने के फायदे और नुकसान Pears Benefits and Side-Effects in Hindi

नाशपाती खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ: नाशपाती जितना खाने में मजेदार होता है उतना ही यह शरीर की रोग प्रतिरोधक छमता को बढ़ावा देने में काफी मददगार है। मौसम के बदलते ही इंसान में कई बीमारियां आनी शुरू हो जाती हैं जिनके लिए भगवन ने मौसमी फल बनाये हैं। बरसात के आते ही खांसी, जुकाम और बुखार की संभावना बढ़ने लगती है जिसके लिए नाशपाती काफी महत्वपूर्ण असरदार फल है। यह सेब की तरह एक अच्छा औषधीय फल है जो कई बिमारियों को अंदर ही अंदर ख़त्म कर देता है। इस फल के फायदों के बारे में जितना कहें उतना कम है। आइये जानते हैं नाशपाती खाने के फायदे और नुकसान Pears Benefits and Side-Effects in Hindi.

खाने के फायदे और नुकसान Pears Nashpati Benefits and Side Effects in Hindi
नाशपाती फल के औषधीय गुण और स्वास्थ्य लाभ

नाशपाती के फायदे – Benefits of Pears (Nashpati) in Hindi

जहाँ तक बात करें तो भारत जैसे देश में नाशपाती से होने वाले लाभों के बारे में बहुत कम जानकारी है। उन्हें ये पता नहीं है कि इसमें कितने गुणकारी पोषक तत्व हैं जो हमारे सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। बहुत से लोग नाशपाती को छीलकर कहते हैं लेकिन उन्हें ये नहीं पता कि इसके छिलकों में 3 गुना phytonutrients पाया जाता है तो शरीर के लिए और ज्यादा बेहतर होता है। लेकिन आप शौक नहीं होइए आपको हम इसके सरे फायदों को आपको बताने जा रहे हैं।

वजन को कम करे

जिन लोगों को वजन के बढ़ते हुए से परेशानी है उनके लिए नाशपाती काफी लाभकारी फल है। नाशपाती सबसे कम कैलोरी फलों में से एक है। अगर आपका पेट भरा हुआ सा महसूस होता है तो उसके लिए नाशपाती में मौजूद फीवर काफी असरदार होता है। नाशपाती में 100 से अधिक कैलोरी होती है जो एक स्वस्थ आहार के लिए काफी बेहतरीन है।

एनीमिया से बचाव करे

जो लोग अनीमिया से परेशान या अन्य खनिज की कमी से पीड़ित हैं उनके लिए नाशपाती काफी अच्छा फल है क्यूंकि नाशपाती में मौजूद आयरन और ताम्बा अनीमिया को कम करने में असरदार होते हैं। कॉपर शरीर में खनिजों की उर्वरता को बढ़ता है और आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के संश्लेषण को बढ़ता है। इसलिए अगर आपको थकन, मांसपेशियों में कमजोरी हो तो आप जरूर नाशपाती फल खाएं।

हड्डियों को करे मजबूत

नाशपाती में मौजूत उच्च खनिज सामग्री जिसमे मैग्नीशियम, मगनीज, कैल्शियम, फॉस्फोरस, ताम्बा पाए जाते हैं। यह हड्डियों में होने वाली परेशानी और खनिजों की कमी को पूरा करने में काफी मददगार होता है।

हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाये

किसी भी रोगी का बीमार होना उसमे हीमोग्लोबिन की कमी होना है। अगर आपके शरीर me हीमोग्लोबिन की मात्रा अच्छी है तो आप बहुत कम बीमार होंगे। इसलिए हीमोग्लोबिन की मात्रा को बनाये रखने के लिए आपको नाशपाती फल खाएं। डॉक्टर्स भी अनीमिया जैसे रोगियों को नाशपाती खाने की सलाह देते हैं।

उच्च रक्तचाप नियंत्रण में रखे

नाशपाती में मौजूद पोटेशियम और ग्लूटाथिओन ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखने के काम करते हैं। जब आपका ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता है तो इंसान को दिल का दौरा और दिल की बीमारी होने की संभावना बहुत कम होती है इसलिए रोगों से बचिए और इस फल को अपने आहार में शामिल करें।

पाचन तंत्र को मजबूत

अपने पाचन को सही तरीके से रखने के लिए नाशपाती फल काफी महत्वपूर्ण होता है। अगर आपको गैस या कब्ज जैसी समस्या होती रहती है तो आप नाशपाती के जूस रोजाना पी सकते हैं और कुछ समय में आपको यह समस्या नहीं होगी। नाशपाती में मौजूद फीवर पाचन तंत्र को मजबूत बनता है। इसमें मौजूद पेक्टिन कब्ज और दस्त को ठीक कर सकता है।

कैंसर से बचाये

नाशपाती में एंटी कैसरोजेनिक गुण होते हैं जो कई तरह के कैंसर की रोकथाम के लिए काफी फायदेमंद होता है। नाशपाती में मौजूद हाइड्रोऑक्सीनॉमिक एसिड होता है जो पेट के कैंसर को रोकने में काफी मदद करता है। नाशपाती में विटामिन सी और कॉपर होने से इससे सोलन, ब्रैस्ट, फेफड़ों और प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है।

घेंघा से पीड़ित रोगियों के लिए

नाशपाती फल में आयोडीन की मात्रा प्रचुर होती है जो घेंघा रोग से पीड़ित मरीजों के लिए काफी मददगार होता है। यह कैल्शियम को बनाये रखने और रक्त वाहिकाओं को नरम रखने में मदद करता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए

नाशपाती में मौजूद फोलिक एसिड नवजात शिशिवों में न्यूरल ट्यूब दोषो में कमी करने में सहायक है। इसलिए नाशपाती जो कि फोलेट समृद्ध फल खाने से आपके बच्चे की स्वस्थ्य में अच्छा असर पड़ता है। गर्भवस्था के दौरान फोलिक एसिड का स्टार बनाये रखने के लिए नाशपाती काफी उपयोगी फल है।

त्वचा को रखे जवां

बढ़ते उम्र के साथ-साथ इंसान बुढ़ापे के चरण में आने लगता है, जिसके कारण उसके चेहरे पर झुर्रियां और धब्बे होने लगते हैं। इसलिए अगर आप बुढ़ापे को नहीं देखना चाहते हैं तो नाशपाती का फल खाना शुरू कर दें यह विटामिन A उच्च होती है, जो त्वचा पर उम्र बढ़ने के प्रभाव को कम कर सकती है।

नाशपाती खाने के नुकसान – Nashpati Khane ke Nuksan in Hindi

  • जल्दबाजी में नाशपाती खाने से नाशपाती के टुकड़े पेट में जाते हैं और पाचन तंत्र पर प्रभाव डालते हैं जिससे पेट दर्द जैसी समस्या हो जाती है इसलिए नाशपाती को आराम से और अच्छी तरह से चबाकर खाना चाहिए।
  • बाजार से नाशपाती खरीदते समय अच्‍छे से देखकर, छूकर ही लें क्‍योकि वे पकने पर अपना रंग नहीं बदलते।
  • नाशपाती को काट कर अधिक देर तक रख कर नहीं खाना चाहिए. क्योंकि हवा के सम्पर्क में आने पर यह भूरे रंग का हो जाता है जो नुकसानदेह हो सकता है।
  • नाशपाती खरीदते समय ध्यान रखना चाहिए कि नाशपाती न अधिक मुलायम हो और न ही अधिक सख्त. नाशपाती से मीठी खुशबू आनी चाहिए।

अगर आपको बीमारियों से निजात पाना है तो खाना कम और फलों का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें। कोई भी फल हो उसका कोई न कोई फायदा जरूर है। अगर आपको कोई भी प्रश्न हो तो आप जरूर हमें कमेंट के जरिए पूछ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here