मुंह के छाले मिटाने के आसान उपाय एवं घरेलू नुस्खे – Home Remedies Tips for Mouth Ulcer in Hindi

मुंह के छालों का कारण और घरेलू उपचार: खान पान में असंतुलन या पेट में गर्मी के कारण हमारे मुँह या जीभ में छाले हो जाते हैं जिनसे खाते पीते समय बहुत दर्द होता है। यह बीमारी उतनी बड़ी तो नहीं है लेकिन अगर इसका एक बार सही तरीके से उपचार नहीं किया गया तो यह बहुत बार हो सकता है। मुँह के छले बीच में सफ़ेद और इसके आस-पास लाल होता है। इनके होने से हमारे मुँह में कोई भी भोजन करने से टेस्ट नहीं आता है इसके अलावा ये बहुत जलन करते हैं क्यूंकि जब भी हम खाना कहते हैं तो यह इन छालों से होकर गुजरता है, इसलिए इनका घरेलु इलाज होना बहुत जरूरी है। मुँह के छाले (Mouth Ulcers) वैसे तो एक सप्ताह के भीतर ही सही हो जाते हैं लेकिन कभी कबार इन्हे ठीक होने में समय लग जाता है। इसलिए अगर आप चाहते हैं की ये छाले दोबारा नहीं हों तो आप को घरेलु उपचार की मदद से इन्हे जल्द ही सही करना चाहिए। घरेलु उपाय मुँह के छालों के लिए बेहतरीन इलाज है।  

मार्किट में कई प्रकार के प्रोडक्ट्स हैं जिनकी मदद से आप मुँह के छालों का इलाज कर सकते हैं। लेकिन इतने महंगे प्रोडक्ट्स से अच्छा है कि आप घर पर ही इनका सही और सफल उपचार कर सकते हैं। इससे पहले कि आप इन घरेलु उपायों की मदद से मुंह या जीभ के छले दूर करें आपको जरूर जानना चाहिए की ये छाले होते क्यों हैं।

मुँह के छाले होने के प्रमुख कारण – Causes of Mouth Ulcer in Hindi

  • पेट में गर्मी होने से
  • ज्यादा मसालेदार भोजन करने से
  • बुखार आने से
  • पाचनतंत्र में खराबी होने से जिससे भोजन सही से नहीं पचना और गैस, कब्ज होना
  • कच्चा खाना खाने से
  • शरीर में विटामिन बी की कमी
  • आयरन की कमी
  • मुँह की सही तरीके से सफाई न होना
  • ज्यादा धूम्रपान या तम्बाकू का सेवन करना

मुंह के छाले से आप आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। आप बिना की हिचकिचाहट के घरेलू नुस्खे की मदद से इन्हे सही कर सकते हैं। बार-बार छाले होने से बचने के लिए आपको जरूरी है की एक बार सही उपाय आजमाना।

मुंह के छालों का घरेलू उपचार – Home Remedies for Mouth Ulcers in Hindi

मुँह के छालों के लिए बेकिंग सोडा

जब बात आती है मुँह के छालों की तो बैंकिंग सोडा बहुत अच्छा उपचार में से एक है। अगर आपके मुँह में छाला खट्टे पदार्थों के खाने से हुआ हो तो यह सबसे बेहतरीन उपाय है। यह आपके मुँह के इन्फेक्शन और बैक्टीरिया को ख़त्म कर देता है। आपको इसका इस्तेमाल करने से जलन हो सकती है लेकिन छाले दूर हो जायेंगे।

उपयोग: एक कटोरे में थोड़ा सा बैंकिंग सोडा लें और उसमे थोड़ी सी पानी की मात्रा मिलाएं ज्यादा मोती पेस्ट भी नहीं बनाएं। इसके बाद इसे आप अपने छालों पर लगा लें। आप इसका उपयोग दिन में कई बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बैंकिंग सोडा को सीधे छालों पर लगा सकते हैं।

नारियल

नारियल पानी या नारियल दूध मुँह के छालो के दर्द को ख़त्म करने का बेहद असरदार तरीका है। यह मुँह में रहत देने के साथ-साथ धीरे-धीरे छालों को दूर कर देगा।

उपयोग: नारियल के दूध में एक चम्मच शहद मिलाएं और इसे छालों पर लगाएं। एक दिन में 5 से 6 बार ऐसा करें। इसके अलावा आप नारियल पानी भी पी सकते हैं। इससे आपके पेट की गर्मी दूर हो जाएगी और ये खुद ही सही हो जायेंगे।

धनिया के बीज

मुँह के छालों के लिए धनिया का बीज एक अच्छा आयुर्वेदिक उपाय है जो काफी रहत ला सकता है और सूजन को कम करने में मदद कर सकता है।

उपयोग: एक कप पानी में एक चम्मच धनिया के बीज उबालें, फिर इसे ठंडा होने दें। अब इस पानी से कुल्ला करते अपने छालों पर लगने दें जितना देर कर सकते हो। दिन में पांच से छह बार ऐसा करें जल्द ही आपको सही चमत्कार दिखेगा।

नमक का घोल

हमारे शरीर के लिए नमक काफी कीमती होता है अगर आदमी नमक नहीं खाये तो आदमी में जहर की मात्रा काफी अधिक हो सकती है। इसी तरह यह मुँह के छालों का जहर को भी जड़ से मार देता है।

उपयोग: गुनगुने पानी में एक चम्मच शुद्ध नमक मिलाएं और घोल बना लें। अब इस पानी से थोड़ा-थोड़ा करके मुँह में लें और घुमाएं फिर बहार उगल दें। इस प्रक्रिया को दिन में चार से पांच बार करें। जल्दी ही आपको रहत मिलेगी।

एलो वेरा

एलोवेरा जेल या उसका रास मुँह के छालों के काफी प्रभावी उपचार है। यह प्राकृतिक एंटीसेप्टिक केँ रूप में काम करता है। इसमें जीवाणुरोधी, एंटीफंगल और एंटीवायरल गन होते हैं जो मुँह के छालें, मसूड़ों की सूजन, घाव से निपटने में काफी उपयोगी होता है।

उपयोग: एलोवेरा के ताजे पत्तों से एक कटोरे में रस निकालें फिर इसे प्रभावित क्षेत्रों में लगाएं। कुछ देर तक लगे रहने के बाद बहार थूक सकते हैं। दिन में कई बार इसका उपयोग करने से जल्दी आपो छालों से मदद मिलेगी। इसके अलावा आप एलोवेरा के पत्तों का रस निकलपर पी सकते हैं।

अरहर दाल

अरहर की दाल मुँह के छालों के असरदार घरेलु उपाय मन जाता है। यह दर्द से रहत और तुरंत छालों को सही करता है।

उपयोग: अरहर की दाल को एकदम बारीक पीस लें और छालों पर लगाएं। इस प्रक्रिया को आप दिन में दो या तीन कर सकते हैं इससे आपको जल्दी ही छालों से रहत मिलेगी।

अजवायन

रोगाणुरोधी होने के साथ साथ इसमें काफी असरदार गुण होते हैं जो मुँह के छालों से जल्दी ही रहत मिल सकती है। इसमें फोलिक एसिड और बिटामिन बी1, बी २, बी ६ काफी अच्छी मात्रा में होता है।

उपयोग: अजवाइन के बीज को चबाएं और इसके रस को छालों में घुमाएं। उसके बाद बहार उगल दें।

बर्फ के टुकड़े

मुंह के छालों को सुन्न करने के लिए बर्फ एक अच्छा घरेलू उपचार है। इसका सही उपयोग करने के लिए आप बर्फ के टुकड़ों को छालों पर लगाएं। इससे काफी रहत मिलेगी।

तुलसी के पत्ते

तुलसी के पत्तों में जीवाणुरोधी, एंटीफंगल, और एंटीवायरल गुण होने से यह मुँह के छालों से काफी हद तक मदद कर सकता है।

उपयोग: चार या पांच तुलसी के पत्तों को अच्छी तरह से धो लें फिर इन्हे चूसें। दिन में तीन से चार बार यह प्रक्रिया करने से दो या तीन दिन के भीतर आपको फर्क नजर आने लगेगा।

हल्दी का उपयोग

हल्दी एक आयुर्वेदिक प्राकृतिक उपचार है जो शरीर के कई रोगों के लिए काफी असरदार होता है। muh के छालों पर हल्दी को लगाने से काफी रहत मिलती है।

उपयोग: एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच हल्दी डालें। फिर इस पानी से कुल्ला करें और छालों पर लगने दें। दिन में कई बार आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।

मुंह के छालों के लिए कुछ अन्य उपाय 

  • नींबू का रस गुनगुने पानी में मिला कर उस से कुल्ला / गरारे करने से मुंह के छाले मिट जाएंगे, तथा नींबू पानी रोज पीने से पेट की गर्मी दूर होगी।
  • नीम का दातुन करने से भी मुंह के छालों में राहत मिल जाती है। नीम के पत्तों का रस भी मुंह के छालों पर लगाया जा सकता है
  • शहद को मुंह के छालों में लगाने से भी मुंह को ठंडक मिलेगी और छाले दूर होंगे।
  • तुलसी के पत्तों का रस निकाल कर उसे मुंह के छालों पर लगाने से मुंह को आराम मिल जाता है।
  • अमरूद के ताजे मुलायम पत्तों को पीस कर उसका रस मुंह के छालों पर लगाने से भी मुंह के छाले दूर हो जाते हैं।
  • प्याच में सल्फर होता है। और सल्फर बेकटेरिया की छुट्टी कर देता है। इस लिए मुंह के छाले दूर करने के लिए प्याज खाना अच्छा रहता है।
  • कच्ची फिटकरी पानी में मिला कर घोल तैयार करें और उस से कुल्ला करें। कच्ची फिटकरी और शहद मिला कर उसका पेस्ट मुंह के छालों पर लगाने से भी मुंह को आराम मिलता है।
  • गिलोय, धमास, जावित्री, हरड़े, आंबला, बहड़े और दाख को मिला कर काढ़ा बना लें और फिर उस काढ़े को थोड़ा ठंडा होने दें। फिर उसमे थोड़ा शहद मिला कर उसे पीने से मुंह के छाले दूर होते हैं।
  • सुझाव: शरीर को कई रोगों से बचाने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा साफ़ पानी पीते रहें। मुँह के छाले पेट में हो रही गर्मी से होती है। इसलिए आप नीबूं पानी का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें। कच्चा खाना जैसे जंक फ़ूड से बचे। यह मोटापे को भी बुलावा देता है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *