मटर खाने के फायदे एवं नुकसान – Green Peas Benefits & Side-Effects in Hindi

मटर खाने का अपना एक अलग स्वाद है। मटर का स्वाद बहुत ही मजेदार होता है लेकिन क्या आप जानते हैं की इसके कितने स्वास्थ्यवर्धक लाभ हैं। अगर आप नहीं जानते हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं मटर के फायदे। मटर कई पौष्टिक पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह हमारे सेहत को कई बिमारियों से बचती है। मटर हरी सब्जियों की तरह विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, फाइबर साथ ही कई एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। आइये जानते हैं मटर खाने के फायदे एवं नुकसान – Green Peas Benefits & Side-Effects in Hindi।

हरी मटर खाने के लाभ

मटर के फायदे – Matar Ke Fayde in Hindi

मटर एक फली होता है जिसके अंदर गोल हरे दाने होते हैं इन्हे कच्चा या पकाकर खाया जाता है। इसकी केवल सब्जी नहीं बल्कि यह पुलाव, पराठे बनाने के काम भी आता है। अगर आप हर दिन हरी मटर का सेवन करें तो पेट का कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।

वजन कम करे

वजन को कम करने वाले व्यक्तियों के लिए हरी मटर का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। मटर में फाइबर की मात्रा उच्च होती है जिससे बॉडी को नयी ऊर्जा मिलती है लेकिन मोटापा नहीं बढ़ता है। इसलिए जब चाहे आप इसकी सब्जी खा सकते हैं।

मटर के औषधीय गुण जवां रखे

बढ़ती उम्र के चलते हर कोई बूढ़ा दिखना शुरू हो जाता है। उसकी त्वचा पर झुर्रियां आनी शुरू हो जाती हैं। इसलिए अगर आप बढ़ते उम्र में भी जवां दिखना चाहते हो तो मटर का सेवन करें, इसमें भरी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जिनके फ्लेवनॉइड, कैरोटेनॉइड, फेनॉलिक एसिड्स और पॉलीफेनॉल तत्व पाए जाते है जिनसे अापको ऊर्जा मिलती है।

दिमागी शक्ति बढाए

अगर आपको कोई भी बात भूलने की समस्या है तो आप मटर का सेवन जरूर करें। हरी मटर को खाने से ऑस्ट्रियोपोरोसिस और ब्रोंकाइटिस आदि से लड़ने में सहायता मिलती है। यह दिमागी शक्ति को मजबूत करती है और समरण शक्ति को बढ़ावा देती है।

हड्डियों को मजबूत बनाएं

हड्डियां स्वस्थ और मजबूत रहें तो इंसान न तो कमजोर दीखता है न ही आलस्य और थकान से ग्रसित रहता है। और जहाँ हड्डियों के स्वास्थ्य की बात करें तो इन्हे कैल्शियम और ज़िंक बहुत जरूरी होते हैं, जोकि मटर में भरपूर होते हैं। इसके अलावा ताजे हरे मटर विटामिन k से भी भरपूर होते हैं जो बढ़ते बच्चों, गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गो की हड्डियां को मजबूत बनाते हैं।

कैंसर से लडे

हरी मटर में बहुत सारे ऐसे स्वास्थ्यवर्धक गुण होते हैं जो कैंसर जैसी भयानक बीमारी से लड़ने की क्षमता होती है। हर दिन हरी मटर का सेवन, शरीर से विषैले और कैंसर एलीमेंट को दूर भगाता है। अब जब प्रकृति ही हमें स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक दवाएं प्रदान करती है क्‍यूंन उसी का लाभ उठाया जाए।

कोलेस्‍ट्रॉल कम करने में फायदेमंद

शरीर का स्वस्थ रहने के लिए बहुत जरूरी है की कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में बढ़ोतरी न हो। हरी मटर में शरीर से ट्राइग्लिसराइड्स के स्‍तर को कम करने का गुण होता है और इसके सेवन से ब्‍लड़ में कोलेस्‍ट्रॉल संतुलित होता है। शरीर से कई बीमारियां भी इसके खाने से कम होती है।

गर्भावस्था में फायदेमंद

चूँकि मटर में फोलिक एसिड उच्च मात्रा में होता है जो गर्भवती महिला के लिए एक अच्छा पौष्टिक पोषक तत्व होता है। यह शारीरिक समस्यायों से निजात दिलअत दिलाता है और शिशु का विकास सही से करता है। महिलाओं में पीरियड्स की समस्या होने पर भी फायदा पहुंचाती है। इसके अलावा महिलाओं को अनियमित माहवारी को मटर में मौजूद पोषक तत्व दूर रखते हैं।

त्वचा के लिए लाभकारी

खूबसूरत त्वचा पाने के लिए मटर एक प्राकृतिक स्क्रब है। इसके लिए आप पानी में थोड़े से मटर को उबालकर उसका पेस्‍ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर रगडें और 15 से 20 मिनट के बाद साफ पानी से चेहरा धो लें। यह चेहरे की खोई हुई चमक को वापस लाता है और चेहरे की झाइयां और धब्‍बों को भी दूर करता है।

बालों के लिए फायदेमंद

मटर जहाँ स्वस्थ्य के लिए लाभदायक होता है वहीँ यह बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। विटामिनों का समूह विटामिन बी-6, बी-12 और फॉलेट लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने में मदद करता है जो शरीर के साथ-साथ सिर की कोशिकाओं तक ऑक्सीजन पहुंचाता है। इस प्रकार यह बालों की वृद्धि को बढ़ाता है और बालों के कमजोर होने की गति को धीमा करता है।

दिल को स्वस्थ रखे

हरी मटर के स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों में एक गुण यह भी है कि इसके सेवन से दिल की बीमरियां कम होती है। इसमें एंटी-इन्फ्लेमेन्ट्री कम्‍पाउंड होते है और एंटी – ऑक्‍सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होता है। इन दोनों ही कम्‍पाउंड के कॉम्‍बीनेशन से दिल की बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है।

पाचन को मजबूत करे

अगर आपको पेट की समस्या जैसे पेटदर्द, कब्ज, गैस, एसिडिटी आदि हो तो आप हरी मटर या उसकी सब्जी बनाकर खा सकते है। इसे पेट एकदम दुरुस्त रहता है। यह पाचन को संतुलित करता है और इससे आपको पेट ख़राब की समस्या से भी निजात मिलता है।

मटर के नुकसान – Matar Khane ke Nuksan in Hindi

  • मटर में फायटिक एसिड होता है। यह आयरन , कैल्शियम , ज़िंक और मैग्नीशियम के अवशोषण में प्रतिरोध पैदा कर सकता है।
  • गर्भवती और स्‍तन पान कराने वाली महिलाओं को मटर का अधिक मात्रा में सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लेना आवश्‍यक है।
  • आवश्‍यकता से अधिक मात्रा में इसका सेवन करने पर आपको पेट में दर्द और दस्‍त जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।
  • मटर का उपभोग करने पर एलर्जी प्रतिक्रियाएं हो सकती है। इसलिए किसी भी प्रकार की समस्‍या होने पर इसका सेवन बंद कर दें और डॉक्‍टर से सलाह लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here