कैसे पता करे की हम गर्भवती है या नहीं

पता करें कि आप गर्भवती है? प्रेगनेंसी के लक्षण: अगर आप चाहती है की आपको घर पर बिना किसी Hospital में test किए पता लग जाए की आप pregnant है या नही? तो इसके बारे मे आज हम आपको बताने जा रहे है की कैसे पता करे की आप गर्भवती है? साधारणतया किसी भी महिला को पता थोड़े ही दिनो में पता चल जाता है की वह pregnant है नहीं या लेकिन बहुत बार ऐसा होता है की पता नही चल पाता।

और फिर आपको उसका पता 3 महीने से अधिक समय में लगता है। आजकल बाजार में pregnancy check करने वाली काफ़ी tools उपलब्ध है लेकिन अगर आप चाहती है कि आपको घरेलू नुस्खो के ज़रिए पता करना है तो आप निसंदेह घर पर ही पता कर सकती है कि आप pregnant है या नही. आइए जानते है pregnancy के लक्षण जिनसे आपको पता लग जाएगा की किन तरीक़ो से पता चल जाएगा की आपके पेट में बच्चा ठहर चुका है।

कैसे पता करे की हम गर्भवती है या नहीं

माँ बनाना बहुत सुखद बात है, क्यूंकि औरत तभी सुकून और अच्छी ज़िंदगी जीती है जब उसका शरीर किसी बच्चे को जन्म दे. इससे ना सिर्फ़ वह खुद खुश रहती है बल्कि उसका परिवार भी बहुत खुश रहता है। अगर आप पहली बार माँ बनाने जा रही है और आपको पता नही चल पा रहा है की आप गर्भवती है या नही तो चलिए नीचे आपको कुच्छ ऐसे तरीके बताने जा रहे है जिनसे आपको पता चल जाएगा की pregnancy होते ही आपमें क्या बदलाव आ जाता है।

कैसे पता करे की हम गर्भवती है या नहीं | Check You are Pregnant or Not in Hindi

मासिक चक्र का रुकना

अगर आपको आपकी नियमित मासिक चक्र (Period monthly schedule) में 10 से 15 दिन देरी हो गई है तो आपको doctors से checkup करवाना चाहिए। हालांकि, मासिक धर्म चक्र का देरी होना गर्भावस्था का सही संकेत नहीं है। कभी-कभी, दवाएं जैसे गर्भनिरोधक और आहार मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकते हैं इसलिए मासिक चक्र में देरी कभी-कभी एक झूठा संकेत हो सकती है, इसलिए आपको अपने चिकित्सक को इस देरी के बारे में पूछना ज़रूरी होगा।

मनुष्य में पाए जाने वाला Chorionic Gonadotropin Hormone कभी कभी सही time पर नही पहुच पता है। यदि आप अपनी गर्भावस्था के परीक्षण के साथ भागते हैं, तो कभी कबार इसके परिणाम नकारात्मक दिखाते हैं। इसका मतलब है कि HCG स्तरों में कोई वृद्धि नहीं है। यदि आपको लगता है कि आपको सही समय पर सही तरीके से मासिक धर्म चक्र नही हो रहा है तो आप अपने doctors से इसके बारे में ज़रूर सलाह ले।

लगातार पेशाब आना

जब भी महिला गर्भवती होती है तो उसे ज़्यादा से ज़्यादा बार पेशाब आती है। अगर आप pregnant है तो आपको लगभग आधे घंटे में पेशाब आना शुरू हो जाएगा। विशेषकर पहले तिमाही में पेशाब लगतार आता है इसका कारण यह है की आपके शरीर में बढ़ती हुई पानी की प्रतिधारण और रक्त के प्रवाह की वजह।

जब भी आप प्रेग्नेंट होती है तो आपके शरीर में Hormone में परिवर्तन आने लगता है जो की गुर्दे के माध्यम से रक्त प्रवाह बढ़ावा देता है नतिजन मूत्राशय जल्दी से भर जाता है। रक्त की मात्रा बढ़ने से पेशाब की तीव्रता बढ़ जाती है। कभी-कभी बढ़ती बच्चा मूत्राशय पर दबाव डालता है, जिससे लगातार पेशाब हो जाता है।

सांस गहरी होना

अगर आपके सांसो में भारीपन आने लगा है, और आप बार बार गहरी साँस ले रहे है तो आप गर्भवती है। ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि आपके पेट में पल रहे भ्रूण को ऑक्‍सीजन की आवश्‍यकता होती है जो आपसे ले लेता है। यह समस्या आपको पूरी pregnancy मे रहती है।

Spotting 

यदि आप अपने अंतिम अवधि के 1-2 सप्ताह के बीच रक्त की कुछ बूंदों को देखते हैं, तो यह जमावट वाला रक्तस्राव हो सकता है। जमावट वाला रक्तस्राव तब होता है जब भ्रूण स्वयं गर्भाशय की दीवार में प्रत्यारोपित होता है। हालांकि, यह हर गर्भवती माँ के रूप में साझा नही है। लेकिन आप एक बार अपने डॉक्टर को ज़रूर जाँच करवा ले।

सरदर्द

गर्भवस्था में ज़्यादातर तनाव और शारीरिक परिवतन आने लगता है जिसके दौरान हर समय सिर में दर्द, तनाव और चिड़चिड़ापन की आशंका बढ़ जाती है। इसका प्रमुख कारण है की pregnancy में आपके hormone बदल जाते है जिससे महिला या तो सुन्न रहती है चिड़चिड़ा। इसलिए आपको तोड़ा आराम और प्यार की ज़रूरत होती है।

स्तनो का भारीपन होना

अगर आपके स्तनो में भारीपन महसूस हो रहा है और आपको ऐसा लगता है कि आप लड़की है और शायद साइज के बढ़ने की वजह से ऐसा हो रहा है तो भूल जाइए ये सब। स्‍तनों में भारीपन, उनके आकार में परिवर्तन, nipples के आसपास के हिस्‍से में यानि एरोला में ज्‍यादा कालापन आना और स्‍तनों में नसों का फूलना आदि गर्भावस्‍था के लक्षण है।

थकान महसूस होना

गर्भवस्था के दौरान hormone  में परिवतन की वजह से शरीर तक जाता है और pregnancy के शुरुआती 3 महीनो में सबसे ज़्यादा थकान लगती है। अगर आपको भी ज़्यादा से ज़्यादा थकान महसूस होता है तो जान लीजिए आप pregnant है।

उल्टी होना

अधिकतर महिलाए जब भी गर्भवस्था में होती है तो उन्हे शुबह-शुबह उल्टी आने लगती है. बहुत से महिलाओ को तो शुबह, दिन, रात किसी भी समय उल्टी आने लगती है। इसका प्रमुख कारण शरीर में होने वेल परिवर्तन है। यह उल्टी आना 6 महीने के बाद ही बंद होता है।

पीठ में दर्द

Pregnant महिला को ज्यादातर पीठ दर्द की समस्या होती है, अगर आपके पीठ में दर्द और हाथ पैर काम करने के लिए इकराते है तो आप pregnant है। इसलिए सही तरीका है की अपने आपको डॉक्टर की जाँच कराए और सुख शांति गर्भवस्था में अपनी care करे।

सोने में अवरुद्धता

महिला pregnant होते ही उसके सोने पर भी बहुत परिवर्तन आता है. एक दिन आपको अच्छी नीद आती है लेकिन दूसरे दिन आपकी नींद भंग हो जाती है। इसलिए अगर आपको नींद में तकलीफ़ आ रही है तो आप गर्भवती है।

चेहरे की चमक खो जाना

अक्सर जब भी कोई महिला प्रेग्नेंट होती है तो उसके पुरे शरीर में परिवर्तन आ जाता है, चेहरे से लेकर पाँव तक। अगर आपके फेस थोड़ा पहले से अलग दिखने लगा है या चेहरे पर खुश्की आने लगी है तो आप pregnant है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here