बैंगन के फायदे और नुकसान – Brinjal (Baigan) Benefits & Side-Effects in Hindi

बैंगन की सब्जी का एक अलग ही स्वाद होता है जिसे हर कोई पसंद करता है। यह भूरे काले रंग की सब्जी हमारे स्वास्थय को बहुत फायदे पहुंचती है। बैंगन की सब्जी ही नहीं इसके बहुत सारे पकवान बनते हैं, भारतीय परिवार में इसकी सब्जी और भरता काफी प्रसिद्द हैं। कई बेहतरीन पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ-साथ इसमें निकोटीन की मात्रा ज्यादा पाई जाती है, जो हमारे शरीर के लिए बहुत लाभकारी होआ है। बैंगन में कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, फॉस्फोरस, मैंगनीज, विटामिन और भी काम्प्लेक्स पाए जाते हैं। यह हृदय बीमारी और मधुमेह की समस्यायों के लिए लाभप्रद होता है। आइये जानते हैं बैंगन के फायदे और नुकसान – Brinjal (Baigan) Benefits and Side-Effects in Hindi होते हैं।बैंगन न सिर्फ हमारे स्वास्थ्य को लाभ पहुंचता है बल्कि यह हमारी त्वचा को भी स्वस्थ और नरम बनाने में मदद करता है। इससे दिल, मष्तिष्क, दर्द सारी परेशानियां दूर होने लगती हैं।

बैंगन खाने से लाभ

बैंगन के फायदे – Health Benefits of Brinjal in Hindi

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करे

बैंगन का नियमित रूप से सेवन करने पर यह हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है। इसमें पोटेशियम और मैग्नीशियम की अधिकता होने के कारण यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ने नहीं देता है। और जब भी हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है तो शरीर निरोगी और हृष्ट-पुष्ट रहता है।

पाचन को मजबूत करे

बैंगन में फाइबर की मात्रा उच्च होती है, जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्वास्थय और आंत्र की गतिविधि के लिए बहुत जरूरी होता है। फाइबर की मदद से हमारे आंत्र में गतिविधि आती है। यह हृदय रोग की समस्या में भी लाभदायक होता है, साथ ही उन ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को ख़त्म करता है जो धमनियों और नसों को बंद करते हैं, जिसके फलस्वरूप हमारा शरीर दिल के दौरे और स्ट्रोक की समस्या से निजात पता है।

दिल को बनाए स्वस्थ

बैंगन खाने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को काफी हद तक कम किया जा सकता है। यह रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। यह हृदय रोग के खतरे को कम करने में काफी फायदेमंद होता है। शरीर भी इस सब्जी में मौजूद पोटेशियम सामग्री को अच्छी तरह से पचा लेता है। यह कोरोनरी हृदय रोगों से बचाता है।

वजन कम करे

बैंगन में वसा या कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है जिसके कारण यह वजन को कम और मोटापे की समस्या से लड़ने का स्वस्थ भोजन होता है। बैंगन कैलोरी जलाने का काम करता है। साथ ही इसमें फाइबर की मात्रा अच्छी पायी जाती है। जो घ्रेलिन हार्मोन को बनने से रोकता है। जिसके कारण हमारा वजन कम होता है।

मधुमेह को नियंत्रित करे

बैंगन फाइबर और कम घुलनशील कार्बोहाइड्रेट का एक बहुत अमीर स्रोत हैं। इस प्रकार वे रक्त शर्करा के स्तर के नियमन के लिए बेहद फायदेमंद है और यह भी ग्लूकोज के अवशोषण को नियंत्रित करने के लिए। बैंगन टाइप 2 मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए सबसे अच्छा विकल्प बनाती है।

मस्तिष्क को स्वस्थ बनाये

दिमाग को तेज और स्वस्थ रखने के लिए बैंगन काफी अच्छा भोजन होता है। इसमें फाइटोन्यूट्रीअंट पाया जाता है जो सेल मेंबरेंस को किसी भी तरह के नुकसान से सुरक्षित रखता है। साथ ही इससे याददाश्त भी बेहतर होती है। इससे दिमागी बिमारियों से निपटने में भी मदद मिलती है।

बैंगन का सेवन शरीर में आयरन की कमी दूर करे

शरीर को मजबूती देने के लिए और किसी भी काम को करने के लिए आयरन की बहुत जरूरत होती है जिसके लिए बैंगन एक अच्छा स्रोत है। इसमें मौजूद नसुनिन की सामग्री शरीर में अतिरिक्त आयरन निकलने में मदद करता है। यह हमारे शरीर की हड्डियों और मांशपेशियों को मजबूती देता है।

बैंगन का उपयोग प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत करे

बैंगन में भरपूर पौष्टिक पोषक तत्व शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने में मदद करता है। इसमें विटामिन सी और फाइटोन्यूट्रेंट्स भरपूर होते हैं शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता में बढ़ावा देते हैं।

गर्भावस्था में फायदेमंद

बैंगन में फोलिक एसिड होता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद माना जाता है। यह फोलिक एसिड न्यूरल ट्यूब के दोष से शिशुओं की रक्षा करता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को गर्भवस्था के दौरान फोलिक एसिड वाले फल और सब्जियों को खाने की सलाह दी जाती है।

त्वचा को स्वस्थ और मुलायम बनाये

बैंगन में बड़ी संख्या में मिनरल्स, विटामिन और आहार संबंधी फाइबर पाया जाता है। यह डिटॉक्सीफिकेशन में मदद करता है, जिससे त्वचा में निखार आता है। बैंगन की सतह पर पाया जाने वाला एंथोसियानिन एक शक्तिशाली एंटी-एजिंग एजेंट होता है।

मधुमेह रोगियों के लिए

बैंगन में फाइबर और कम मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है जो मधुमेह रोग को संतुलित करने में मदद करता है। यह शरीर में ग्लूकोज और इन्सुलिन की गतिविधि को संतुलित करने में मदद करता है। इसको नियमित खाने से आपका शुगर लेवल कम होगा।

बैंगन के गुण बालों को बनाये स्वस्थ और मुलायम

बालों को अगर मजबूत और स्वस्थ रखना है तो उन्हें अंदुरुनी पोषक तत्वों की जरूरत होती है। बैंगन में उच्च मात्रा में खनिज, विटामिन और पानी पाया जाता है जो बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। इसके लिए आपको बैंगन को काटकर इसे अपने सिर 20 मिनट के लिए रगड़ें और कुछ समय के बाद साफ़ गुनगुने पानी से धो लें। सप्ताह में एक या दो बार ऐसा करें।

बैंगन के नुकसान – Brinjal Side-Effects in Hindi

  • बैंगन अधिक तेल सोखता है जो वसा होता है जिसके कारण आपका वजन बढ़ सकता है और आपके दिल को भी नुकसान पहुँच सकता है।
  • जो लोग अधिक मात्रा में बैंगन का सेवन करते हैं, उन्हें बवासीर का खतरा हो सकता है।
  • गर्भवती महिलाओं को बहुत अधिक बैंगन नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह प्राकृतिक मूत्रवर्धक है और भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • बैंगन सब्जियों की नैटशाइड परिवार से संबंधित हैं जिससे आपको एलर्जी हो सकती हैं।
  • अगर आप अवसादरोधी दवा ले रहे हैं तो बैंगन का सेवन नहीं करें क्योंकि यह दवाओं के असर को कम कर सकता है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here