अंजीर गुण, फायदे एवं नुकसान – Figs (Anjeer) Benefits & Side-Effects in Hindi

अंजीर खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही यह स्वस्थ्य के लिए काफी उपयोगी फल है। अंजीर खाने से मन तो प्रसन्न रहता ही है शरीर को भी कोमलता प्रदान करता है। नाशपाती की तरह दिखने वाला यह फल कई तरह की बिमारियों से लड़ने में सहायक होता है। इस फल को अंग्रेजी में fig कहा जाता है जिसमें अनेक गुण होने के नाते हर उम्र के लोग इसका फायदा उठा सकते हैं। बच्चे से लेकर बूढ़े जवान इसे खाकर कई स्वास्थ्य लाभ उठा सकते हैं। यह फल पाचन तंत्र को मजबूत करने में सहायक है साथ ही सर्दी-जुकाम, खांसी, अस्तमा, डयबिटीज आदि समस्याओं से लड़ने की क्षमता रखता है। तो चलिए जानते हैं अंजीर गुण, फायदे एवं नुकसान – Figs (Anjeer) Benefits & Side-Effects in Hindi.

अंजीर खाने से लाभ

अंजीर के गुण एवं फायदे – Health Benefits of Figs in Hindi

अंजीर में विटामिन A, विटामिन B1, B2, calcium, fiver, आयरन, सोडियम, क्लोरीन, पोटेशियम मगनीज उच्च मात्रा में पाया जाता है। स्वस्थ्य के लिए अंजीर को बहुत अच्छा माना जाता है। यह फल वजन को कण्ट्रोल करने में काफी सहायक होता है। साथ ही इससे कमजोरी दूर और खांसी का रामबाण इलाज होता है।

कब्ज की समस्या को करे दूर

अगर आप पेट में हो रहे कब्ज, गैस से परेशान हैं तो आप चिंता न करें। कब्ज को दूर करने के लिए 3 से 4 पके अंजीर दूध में उबालकर सोने से पहले खाएं और उसके बाद दूध को पी जाएँ। इससे आपको तुरंत ही कब्ज से रहत मिलेगी। इसके अलावा अगर आप 5 अंजीर को रात को पानी के साथ भिगोने दाल दें और सुबह इसे मसलकर पानी के साथ खाएं तो कब्ज की समस्या जल्दी ही ख़त्म हो जाएगी।

हड्डियों को मजबूत करे

अंजीर में कैल्शियम की मात्रा काफी अच्छी होती है जो हड्डियों को मजबूती देने के लिए काफी अच्छा फल है। इसके सेवन करने से आस्टियोपोरोसिस जैसे हड्डियों के विकारों से भी रक्षा करता है, चूँकि यह फास्फोरस का एक अच्छा स्रोत है जो हड्डियों के विकास को बढ़ावा और पतन को रक्त है।

मधुमेह रोग के लिए

मधुमेह को अंग्रेजी में डायबिटीज कहते हैं, इस समस्या को दूर करने के लिए अंजीर में मौजूद फाइवर काफी फायदेमंद होता है। अंजीर के सेवन से ब्लड शुगर के स्तर में आने वाले उतार-चढ़ाव पर रोक लगती है जिससे मधुमेह के रोगी की समस्या दूर होने लगती है।

अस्थमा रोग में सहायक

जो लोग अस्थमा की बीमारी से परेशान हैं उनके लिए यह फल काफी लाभकारी होता है। इस फल में पोटेशियम की मात्रा अच्छी होती है जो ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल में रखता है। इससे स्वांस नलिकाएं सही काम करने लगती हैं।

हृदय रोग से बचाव

कोरोनरी एक खतरनाक हृदय रोग है जो मुख्या रक्त वाहिकाओं को अपना शिकार बनाकर रक्त-प्रभाव को प्रभावित करता है। सूखे अंजीर में फिनोल, ओमेगा-३, ओमेगा-६ फटी एसिड होते हैं। ये फटी एसिड कोरोनरी ह्रदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

एनीमिया रोग के लिए गुणकारी

अंजीर में आयरन और कैल्शियम की अधिक मात्रा होने के कारण यह फल एनीमिया जैसे रोग को ठीक करने के लिए काफी लाभदायक होता है। आपको 8 से 10  मुनक्के और 7 से 8 अंजीर 200 मिलीलीटर दूध के साथ उबालकर पीना चाहिए। इससे शरीर में खून की बृद्धि और रक्त संबधी विकार दूर होने लगते हैं।

वजन कम करने में सहायक

अंजीर में फीवर की अधिकता होने के कारण सूखे अंजीर में कैलोरी बहुत कम होती है। एक अंजीर खाने से आपको 40 कैलोरी मिलती है जिसमे 0.2 ग्राम फैट होता है। इसलिए जो भी व्यक्ति अपने वजन को कम करना चाहता है उसे अंजीर का सेवन करना चाहिए।

ताकत बढ़ाने में फायदेमंद

रोज की लड़ने वाली ज़िन्दगी से थककर हम आलसी और ढीले हो जाते हैं। इसलिए अगर आप शरीर को नयी ताकत देने की सोच रहे हैं तो सूखे अंजीर के टुकड़े और छिले हुए बादाम को गर्म पानी में उबालें। इसे सुखाकर इसमें शक्कर, पीसी इलाइची, केसर, चिरौंजी, पिस्ता और बादाम बराबर मात्रा में मिलकर 7 दिन तक गाय के घी में पड़ा रहने दें। फिर रोजाना 20 ग्राम तक सेवन करें। इससे आपके मांसपेशियां मजबूत होंगी और नयी ताकत मिलेगी।

पाचन तंत्र मजबूत करे

अंजीर में फीवर होने के कारण यह पेट की हर समस्या के लिए काफी अच्छा फल है। 4 अंजीर में 6 gram फाइवर होता है। जो हमारे खान-पान को सही तरह से पचने में मदद करता है। इससे कब्ज, गैस और पेट में दर्द की समस्या नहीं होती है।

बवासीर में सहायक

बवासीर से ग्रसित रोगियों के लिए अंजीर काफी अच्छा फल है। आप इसका सेवन शुबह खली पेट अंजीर को गुनगुने पानी के साथ खा सकते हैं, और इस परेशानी से निजात पा सकते हैं।

अंजीर के नुकसान – Figs Side-Effects in Hindi

  • किसी किसी व्यक्ति को अंजीर खाने से एलर्जी उत्पन्न हो सकती है।
  • शुगर की उच्च मात्रा होने के कारण अंजीर का सेवन मधुमेह से ग्रस्त रोगियों को डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए।
  • अंजीर के अधिक सेवन से दांत सड सकते हैं क्यूंकि इसमें सुगर की मात्रा थोड़ी जादा होती है जिसकी वजह से दांत साद जाते हैं या दांतों में कीड़े लग जाते है।
  • अंजीर के बीजों का अत्यधिक सेवन आंतों में दर्द के साथ-साथ लीवर को भी नुकसान पहुंच सकता है
  • अंजीर के अधिक सेवन से शरीर में गर्मी बन सकती है क्यूंकि अंजीर फल की तासीर बहुत गर्म होती है जिसकी वजह से गुदा यानि योनी से रक्त स्त्राव हो सकता है।
  • इसके अधिक सेवन से लीवर में परशानी हो सकती है क्यूंकि इसके बीज आंतो में रूकावट पैदा कर सकते हैं ऐसा में आपको सीधे अपने किसी निजी डाक्टर से सम्पर्क करें।
  • किसी किसी व्यक्ति को अंजीर से एलर्जी होती है तो वो व्यक्ति अंजीर का सेवन न करें अगर आप पहली बार अंजीर का सेवन कर रहे हैं तो कम मात्रा में करें या डॉ से परामर्श लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here