कहते हैं कि आदमी की इज्जत से बढ़कर कोई चीज नहीं होती। अगर एक बार किसी की इजात पर कलंक लग गया तो उसे वापस लाना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि हर कोई आपका सम्मान करें...