आड़ू के गुण, फायदे एवं नुकसान Peach Benefits and Side-Effects in Hindi

आड़ू अपने खास मिठास के कारण जितना अधिक प्रसिद्ध उतना ही अपने औषधीय गुण से विख्यात यह फल सेहत के काफी फायदेमंद होता है। आड़ू प्रोटीन, मिनरल्स, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट जैसे पौष्टिक तत्वों से भरपूर यह फल स्वस्थ्य लाभ में काफी अच्छा होता है। इस फल को आप केवल स्वाद के लिए लेते होंगे लेकिन अगर इसके फायदों की बात करें तो यह दांत, हड्डियों, आँखों, त्वचा और तंत्रिका तंत्र को स्वस्थ और मजबूत बनाने के काम आता है। पाचन क्रिया सही नहीं हो तो इस फल का सेवन करें। आइये जानते हैं ऐसे बहुमूल्य गुणों से भरपूर फल के स्वस्थ्य लाभ। आड़ू मुख्य रूप से पहाड़ी इलाकों में होता है। यह भारत के जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचंल प्रदेश में ज्यादा उगाया जाता है। आड़ू के बीज से निकलने वाला तेल त्वचा से समन्धित समस्याओं के लिए लाभप्रद होता है। आइये जानते हैं आड़ू के गुण, फायदे एवं नुकसान Peach Benefits and Side-Effects in Hindi.

आड़ू के फायदे – Health Benefits of Peach in Hindi 

वजन को कंट्रोल करे

अगर आप अपने वजन से परेशान हैं तो आड़ू का सेवन करें इस फल में कम कैलोरी पाई जाती है, जो बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में सहायक होता है। अगर आप इसे नाश्ते में खाएं तो आपको दिन के भोजन करने की जरूरत नहीं होती है। अगर आप भोजन नहीं करेंगे तो वजन ज्यादा बढ़ेगा नहीं।

प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत

आड़ू में विटामिन सी भरपूर होता है जो हमारे शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। यह शरीर से हानिकारक बिमारियों को दूर करने में मदद करता है, साथ ही यह रोग प्रतिरोधक प्रणाली की तरह स्वस्थ्य को निरोगी बनता है।

आँखों को बनाएँ स्वस्थ

विटामिन A की उपस्थिति में यह फल आँख के रेटिना को स्वस्थ बनाने में मदद करता है। आड़ू में बिता कैरोटीन पाया जाता है जो शरीर में विटामिन A को बनाये रखने के लिए बहुत जरूरी होता है। यह हमारे आँखों को स्वस्थ और उनकी देखने की शक्ति को बढ़ाता है।

आड़ू के गुण किडनी को स्वस्थ बनाये

आजकल के समय में सबसे ज्यादा किडनी से समन्धित परेशानियां हो रही हैं। अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे है तो आपको आड़ू का सेवन करना चाहिए। इस फल में पाए जाने वाला पोटेशियम आपकी किडनी के लिए फायदेमंद है। यह आपके यूरिनरी ब्लैडर के लिए अलेजिंग एजेंट की तरह काम करता है।

आड़ू का रस पाचन को मजबूती दे

अगर आपको पेट से संबंधित समस्याएं जैसे पेट में दर्द, कब्ज, गैस, बवासीर हैं तो आप नियमित रूप से आड़ू का सेवन करें। यह पेट और लिवर से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। इसका रस बच्चों में होने वाले जोईडीस रोग में भी लाभ पहुँचता है। इसके ताज़ी पत्तियों के रस से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

आड़ू का उपयोग त्वचा के लिए फायदेमंद

विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर यह फल हमारी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से आप अपने आपको हमेशा जवान देखोगे। यह चेहरे पर झुर्रियां नहीं आने देता है। साथ ही अगर इसके फेसपैक को आप अपने चेहरे पर लगाएंगे तो आपका चेहरे कोमल और चमकदार होता है।

शरीर में खून की कमी नहीं होने दे

अगर आप अपने शरीर में खून की हो रही कमी से परेशान हैं तो आप नियमित रूप से आड़ू का सेवन करें। आड़ू आयरन का अच्छा स्रोत है यह एनीमिया यानि खून की कमी को ख़त्म करता है साथ ही शरीर में रेड ब्लड सेल्स की मात्रा बढ़ता है।

हड्डियों और दांतों को मजबूत

विटामिन सी और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर यह फल हमारे शरीर की हड्डियों और दांतों को मजबूती देने में सहायक होता है। इसका नियमित सेवन करने से महिलओं को आस्टियोपोरोसिस नमक रोग से बचाव मिलता है। यह गठिया रोग को दूर करने में भी सहायक होता है।

गर्भावस्था में फायदेमंद है आड़ू

गर्भवस्था में विटामिन सी बच्चे की हड्डियों, दांतों, त्वचा, मांसपेशियों और रक्त वाहिकाओं में संयोजी ऊतक के रूप में मदद करने के लिए आवश्यक होता है। इसके उच्च फाइबर वाले गुण शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकलने, पाचन में सहायता और आँतों को साफ़ करने में मदद करता है।

आड़ू का सेवन हृदय को स्वस्थ बनाये

आडू में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट हृदय को नुक्सान पहुंचने वाले मुक्त कणों को दूर करने में मदद करता है। ये मुक्त कण शरीर के भीतर श्रृंखला प्रतिक्रियाएं शुरू करते हैं और कोशिकाओं को नुकसान कर सकते हैं। आड़ू में जैव-सक्रिय यौगिक होते हैं जो मेटाबोलिक सिंड्रोम से लड़ने में मदद करते हैं जो सूजन, मोटापा और हृदय की समस्याओं का कारण बनते हैं।

आड़ू के नुकसान – Side-Effects of Peach (Aadu) in Hindi

  • आड़ू में सैलिसिलेट्स (salicylates) होता है जो एलर्जिक रिएक्शन उत्पन्न कर सकता है। अधिक मात्रा में आड़ू खाने से प्वाइजनिंग की भी समस्या हो सकती है, जो आपके शरीर को नुक्सान पंहुचा सकता है।
  • आड़ू के अधिक सेवन से पेट में दर्द, साँस लेने में समस्या, दस्त, चक्कर आना, मतली आदि हो सकती है।
  • आड़ू पुरुषों में कोलोरेक्टर कैंसर (colorectal cancer) का कारण हो सकते हैं। इसलिए आड़ू के सेवन से पहले यह ध्यान रखें।
  • आड़ू एलर्जी के लक्षण लोगों के बीच अलग-अलग होते हैं, लेकिन इनमें मुंह, जीभ या होंठों में लाली या सूजन शामिल हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here