मुंह के छाले का इलाज के आसान घरेलू उपाय और देसी उपचार

मुँह के छले छोटे होते हैं लेकिन दर्द बहुत देते है। मुँह में छाले के कारण ना सही तरह से खाना खा पाते है और ना ही सही तरीके से बात कर पाते है। नॉर्मली ये छले शरीर में पौष्टिकता की कमी के कारण होते हैं। लेकिन कभी-कभी खराब जीवन-शैली या खान-पान में गड़बड़ी के कारण भी मुँह में छाला पड़ने की समस्या आ जाती है। वैसे तो डॉक्टर इलाज के रूप मे कई दवा देते है जिससे छले ठीक भी होने लगता है लेकिन फिर कुछ समय बाद छाले फिर से होने लगते हैं। इसलिए आज हम आपको मुँह, जीभ, होंठ के छाले का इलाज के आसान घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक देसी नुस्खे बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप मुँह के छालों का आसानी से उपचार कर सकते हैं। Easy home remedies and ayurvedic treatment tips for mouth ulcers in hindi.

muh-ke-chaale-ka-gharelu-upay-karan-lakshan-aur-upchar

मुंह के छाले होने के कारण

दरअसल मुँह के छाले होना एक आम समस्या है, कई बार भोजन में गड़बड़ी या तीखा भोजन करने से जीभ पर, होंठो पर और अंदर छाले हो जाते है जो आम तौर पर 7 दिन में ठीक भी हो जाते है। कभी-कभी छाले लंबे समय तक ठीक नहीं होते जो भोजन करते और बोलते टाइम तकलीफ़ देते है। कई बार गंभीर हो जाने पर उनसे खून भी निकलता है। ऐसे में डॉक्टर से इसकी जाँच ज़रूर करनी चाहिए, क्यूंकि ये घातक भी हो सकते हैं। तो चलिए पहले जानिए मुँह के छाले होने के प्रमुख कारण

  • अधिक मसालेदार भोजन करने से।
  • ज़्यादा गर्म भोजन और पेय पदार्थो का सेवन।
  • दांतो की ठीक तरह से सफाई ना करने से।
  • अधिक एसिड वाले भोजन करना।
  • शरीर में विटामिन बी और आइरन की मात्रा नॉर्मल ना होना।
  • एलेर्जी करने वाले भोजन करने से।
  • कभी कभी हल्के-फुल्के बुखार आने पर।
  • कुच्छ महिलाओं में माहवारी आने से पहले।
  • तनाव के कारण भी छाले हो सकते है।
  • किसी दाँत का तेज किनारा लगने से।

मुंह के छाले के आसान घरेलू उपाय और देसी उपचार

  • शहद मे मुलहठी का चूर्ण मिलाकर इसका लेप मुँह के छालों पर करें और लार को मुँह से बाहर टपकने दें।
  • छाले होने पर कत्था और मुलहठी का चूर्ण और शहद मिलाकर मुँह पर लगाने से छाले जल्द ही साफ़ होने लगते हैं।
  • मुँह के छाले का इलाज के लिए अमरूद के मुलायम पत्तों में कत्था मिलाकर पान की तरह चबाने से मुँह के छालों से राहत मिलती है और छाले दही-धीरे ठीक होने लगते हैं।
  • अम्लातस की फली मज्जा को धनिए के साथ पीसकर थोड़ा कत्था मिलाकर मुँह में रखिये या केवल अमलतस के गूदे को मुँह में रखने से मुँह के छाले दूर होने लगते हैं।
  • एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाए और उसे धीरे-धीरे मुँह में चलाए। इस क्रिया को दिन में 3 से 4 बार दोहराएं। इससे थोड़ी जलन और दर्द तो ज़रूर हो सकता है लेकिन छाले जल्द ठीक हो जाते हैं।
  • मुंह में छाले होने पर अदूशा के 2-3 पात्र को चबाकर उनका रस चूसना चाहिए। यह मुँह के छालों के लिए अच्छा घरेलू उपाय है।
  • मुँह के छाले का इलाज के लिए कत्था और मुलहठी का चूर्ण और शहद मिलाकर मुँह के छालों पर लगाने चाहिए।
  • सूखे पान के पत्ते बना लीजिए, फिर इस चूर्ण को शहद में मिलाकर छानिये, इससे मुँह के छाले ख़त्म हो जाएँगे।
  • मुँह के छाले का घरेलू उपाय में आप पान के पत्तियों का रस निकालकर, देशी घी में मिलाकर चालों पर लगाने से फायदा मिलता है च्चाले ठीक हो जाते है.
  • मुँह के छाले का देसी रामबाण नुस्खा मेहंदी और फिटकरी का चूर्ण बनाकर छालों पर लगाए, इससे मुँह के छाले ख़त्म हो जाते हैं।
  • छाछ से दिन में 3-4 बार कुल्ला करने से मुँह के छले ठीक होने लगते हैं।
  • खाना खाने के बाद गुड चूसने से छालों से राहत मिलती है।
  • मुंह के छाले होने पर चमेली के पत्तों को चबाना चाहिए। यह घरेलू इलाज काफी असरदार होता है।
  • नींबू के रस में शहद मिलाकर इसके कुल्ले करने से मुँह के छाले सही होते है.
  • मशरूम को सुखाकर बारीक चूर्ण तैयार करें, इस चूर्ण को मुँह, जीभ या होंठों के छालों पर लगा दीजिए। इससे कुछ ही समय में आपके छाले सही होने लगेंगे।
  • ज़्यादा से ज़्यादा मात्रा में पानी का सेवन करें, इससे पेट सॉफ होगा और मूह के छाले नहीं होंगे।
    NOTE: अगर आपके मुँह, जीभ या होंठों पर बार-बार छाले हो रहे है तो अपने मुँह की सफाई पर विशेष ध्यान दें। ज़्यादातर मसालेदार और हेवी भोजन करने से बचें। अगर फिर भी छाले ठीक ना हो रहे हो तो जल्द डॉक्टर्स से सलाह और उपचार ज़रूर लें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *