चुकंदर के फायदे एवं नुकसान

चुकंदर सलाद के रूप में काफी खाया जाता है यह अपने पौष्टिक गुणों के कारण स्वास्थ्य लाभ में यह विश्वविख्यात है। इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा जैसे पोषक तत्व भरे होते हैं। चुकंदर शरीर को ताकत देने के अलावा खून को साफ़ करने में मददगार होता है। शलजम की दिखने वाला यह लाल रंग का चुकंदर सेहत के लिए कई मायनों में फायदेमंद है। 

नियमित रूप से एक कप चुकन्दर के पत्तों का जूस पीने से आपको कोई भी बीमारी नहीं होगी। चुकंदर के फायदों की बात करें तो न सिर्फ यह हमारे सेहत के लिए उपयोगी होता है बल्कि चेहरे को चमकाने में भी मदद करता है।

यह चेहरे पर पड़े कील मुहांसे और बालों से रूसी भागने में भी सहायक है। इसके सेवन से आप जवां दिख सकते हो और रूखी त्वचा गायब कर सकते हो। आइये जानते हैं चुकंदर के फायदे एवं नुकसान। 

चुकंदर के फायदे

हृदय को स्वस्थ रखे

चुकंदर के रस में नाइट्रेट नमक रसायन होता है जो रक्त के दबाब को कम करता है और इसमें ब्यूटेन के नामक तत्व को जमने से रोकता है। इससे दिल की बीमारी और दिल के दौरे जैसी भयानक समस्या से बचाव होता है। नियमित रूप से चुकंदर के जूस पीने रक्त संचार को सुचारु रखता है। इस प्रकार चुकंदर का रस हाइपरटेंशन और हृदय संबंधी समस्याओं को दूर रखता है।

ब्लड शुगर लेवल कम करे

शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए चुकंदर एक अहम् हिस्सा रखता है। इसमें मौजूद नाइट्रेट्स का सेवन करने से यह नाइट्राइट्स और एक गैस नाइट्रिक ऑक्साइड्स में बदल जाता है। ये दोनों तत्व धमनियों को चौड़ा करने और ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इसे रोज खाने से आपका बढा हुआ ब्‍लड शुगर लेवल अपने आम कम होने लगेगा।

चुकंदर के फायदे गर्भावस्था में

चुकंदर में फोलिक एसिड की मात्रा उच्च होती है जो गर्भवती महिलाओं और उनके गर्भ में पल रहे शिशु के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। यह गर्भ में पल रहे शिशु के स्पाइनल कॉर्ड के निर्माण में मदद करता है। चुकंदर के सेवन करने पर गर्भवती महिला को अतरिक्त ऊर्जा मिलती है।

एनीमिया रोग से बचाये

शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाने के लिए चुकंदर बहुत ही उपयोगी सब्जी है। इसमें आयरन की मात्रा बहुत अधिक होती है जो हमारे खून में लाल रक्त कोशिकाओं को सक्रीय और उनकी संख्या बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही शरीर में ताजा ऑक्सीजन का संचार भी करता है। एनीमिया जैसी बीमारी में चुकंदर बहुत उपयोगी होता है। इसकी जड़ में विटामिन सी और चुकंदर में विटामिन ए होता है, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं।

मधुमेह रोग में फायदेमंद

जो लोग मधुमेह रोग से ग्रसित हैं उनके लिए चुकुन्दर की सब्जी का उपयोग बहुत लाभकारी होता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट रक्त के शर्करा के स्तर को बढ़ने से रोकते हैं। चुकुन्दर हमारे शरीर की इन्सुलिन सेंसिटिविटी को रोकता है और ऑक्सीडेटिव तनाव को दूर करता है। इस प्रकार यह मधुमेह रोगी के लिए फायदेमंद होता है।

मस्तिष्क के लिए फायदेमंद

चुकंदर हमारे याददाश्त को बढ़ाने में मदद करता है इसमें पाए जाने वाला कोलिन नमक पोषक तत्व होता है जो याद रखने की क्षमता को बढ़ाता है। यह हमारे दिमाग में ऑक्सीजन के प्रवाह को बनाये रखता है। जिससे दिमाग में चिड़चिड़ापन ख़त्म होता है और पागलपन की समस्या में रोकथाम होता है।

कैंसर का खतरा कम करे

चुकंदर में मौजूद बेटासायनिन तत्व ब्रेस्ट या प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करता है। यह कैंसर से ग्रसित कोशिकाओं को ख़त्म कर देता है और नयी कोशिकाओं का निर्माण करने में सहायता करता है जिन लोगों को ये खतरनाक बीमारी नहीं है उनके चुकन्दर खाने से इसका जोखिम कम हो जाता है।

सेक्शुअल हेल्थ को बढ़ाये

पुराने समय से ही यौन स्वास्थ्य में चुकंदर का उपयोग किये आता जा रहा है। इसमें नाइट्रिक ऑक्साइड पाया जाता है जिससे रक्त वाहिनियों का विस्तार होता है और जेनेटल्स में खून का दौरा बढ़ता है। इसके अलावा चुकुन्दर में बोरान की मात्रा काफी होती है जो पुरुष सेक्स हार्मोन को बनाने में मदद करता है।

शरीर को ऊर्जा प्रदान करे

चुकंदर में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत अच्छी होती है जो शरीर में एनर्जी बढ़ाने में मदद करता है। अधिक उम्र के लोगों में व्यायाम के दौरान अधिक आक्सीजन की आवश्यकता होती है। ऐसे मे व्यायाम से पूर्व चुकंदर का रस लें।

त्वचा के लिए फायदेमंद

चुकंदर का रस ठंडा होता है इसलिए यह त्वचा के कील मुहांसे, फोड़े फुंसी से निजात दिलाने में मदद करता है। चुकुन्दर को उबालें और उस पानी से अपने त्वचा को साफ़ करें इससे त्वचा पर हो रही कोई भी समस्या से निजात मिलेगी। चुकंदर के रस और हल्दी पाउडर को घोल कर पीने से त्वचा नरम और चमक जाती है।

पेट की समस्या दूर करे

चुकंदर में मौजूद फाइबर हमारे पेट को साफ़ और स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह पेट से समन्धित परेशानियों जैसे कब्ज, बवासीर में काफी फायदेमंद होता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए सोने से पहले एक गिलास चुकंदर का रस पी लें। कुछ ही दिनों में आपको काफी अच्छा फर्क नजर आएगा।

मासिक धर्म चक्र में फायदेमंद

महिलाओं को मासिक धर्म के चलते काफी परेशानी होती है। अगर आप नियमित रूप से चुकंदर का सेवन करें तो आपको मासिक धर्म में होने वाले कष्टों से मुक्ति मिलेगी। मासिक धर्म के दौरान होने वाली सुस्ती से भी आपको कोई परेशानी नहीं होगी।

चुकंदर खाने के नुकसान

  • जिन व्यक्तियों का रक्तचाप कम रहता है उन्हें चुकंदर के सेवन से बचना चाहिए।
  • चुकंदर का ज्यादा सेवन करने से कंडीशन विटुरिया जैसी समस्या हो सकती है इसलिए अधिक मात्रा में चुकंदर का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • चुकंदर में फाइबर की मात्रा अधिक होती है इसलिए अधिक मात्रा में चुकंदर का सेवन करने से मितली और दस्त और कब्ज की समस्या हो सकती है
  • चुकंदर के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि चुकंदर में ऑब्जेक्ट की मात्रा अधिक होती है जो आपके यूरिन में पथरी के निर्माण को बढ़ा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here