बेर के फायदे और नुकसान – Ber Benefits and Side-Effects in Hindi

बेर के फायदे और नुकसान – Ber ke fayde aur nuksan in Hindi: बेर का फल चाहे दिखने मे छोटा हो लेकिन इसके फ़ायदे जानकार आप दंग रह जायेंगे साल में कुछ ही दिन मिलने वाला यह फल भले ही छोटा हो लेकिन पौष्टिक तत्वों से भरपूर यह फल हमारे स्वास्थ्य लाभ के लिए बहुत फायदे करता है। हम आपको बता दें कि सिर्फ बेर ही नहीं इसके पत्ते, बृक्ष की छाल, गोंद सभी में औशधीय गुण पाए जाते हैं। बेर में कैलोरी बहुत कम होती है और यह ऊर्जा का अच्छा स्रोत है। उल्टी होना, जी घबराना इसके अलावा गर्भवस्था के दौरान पेटदर्द कम करने के लिए भी यह बहुत ही लाभकारी फल है। तो आइये जानते हैं बेर के औषधीय गुण एवं स्वास्थ्य लाभ..

कच्चे होने पर हरे रंग का और पकने के बाद लाल-भूरे रंग का होने वाला यह छोटा सा फल बड़ी बड़ी बिमारियों को सही करने में बहुत ही लाभदायक होता है। कुछ शोधों से पता चला है कि इसके जरिये एनीमिया, लिवर, लो-ब्लड प्रेशर जैसे समस्याओं से निजात पाया जा सकता है। त्वचा को नरम और मुलायम बनाने केलिए भी यह फल उत्तम होता है।

बेर के फायदे और नुकसान

बेर खाने से फायदे – Ber Benefits in Hindi

पेट की समस्याएं दूर करे

पेट से समन्धित कोई भी समस्या हो उसके लिए बेर खाना बहुत ही लाभदायक होता है। अगर आपके पेट में दर्द है तो आप बेर खाइये अगर आपको अपच की समस्या है तो आप बेर को नमक और काली मिर्च के साथ खाएं तुरंत ही रहत मिलेगी। इसके अलावा बेर को सुखाकर बारीक पीसें फिर उस पाउडर के सेवन करने से कफ की समस्या दूर हो जाती है।

दिल को बनाएं स्वस्थ

अगर आप चाहते हैं कि आपको दिल से समन्धित कोई समस्या नहीं हो तो आप बेर का सेवन करें। आयुर्वेद के अनुसार यह दिल की बिमारियों को दूर करने का काम करता है। बेर शरीर में कोलेस्ट्रॉल को कण्ट्रोल करने में मदद करता है। इसे खाने से बार-बार प्यास लगने वाली समस्या भी दूर हो जाती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये

बेर का फल शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है। यह फल कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, छोपेर जैसे खनिज पदार्थों से भरपूर होता है। ये सब हमारे शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाते हैं और रोगों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ती है।

अच्छी नींद के लिए

अगर आपको रात में बहुत देर तक नींद नहीं आती या बीच-बीच में नींद खुल जाती है तो आप बेर का उपयोग करें। इस गुणकारी फल में बहुत प्रकार के महत्वपूर्ण एमिनो एसिड होते हैं जो शरीर में प्रोटीन की मात्रा को संतुलित करने में मदद करते हैं। चीनी दवाओं में इसके बीज से एंग्जाइटी और अनिद्रा (इंसोम्निया) का इलाज भी किया जाता है।

हड्डियों को मजबूत

अगर आपका शरीर थोड़े से काम करने के बाद थकान महसूस करता है तो आप बेर जरूर खाएं। इस फल में आयरन और कैल्शियम की भरपूर मात्रा होती है जो हड्डियों को स्वस्थ रखने में काफी मदद करते हैं। इसके सेवन से जोड़ों में होने वाली दर्द भी ठीक हो जाती है।

खून साफ करें

रक्त को साफ करने और सुचारू रूप से शरीर में संचरण के लिए बेर का फल काफी उपयोगी होता है। जब शरीर में खून साफ़ रहता है तो चेहरे पर फोड़े-फुंसी, दाग-धब्बे नहीं होते हैं। और रक्त सही तरीके से शरीर में संचारित हो तो दिल के दौरे जैसी बीमारी नहीं होती।

घाव भरने में

अगर आपके शरीर में कहीं पर चोट लगी है तो आप इसे भरने के लिए बेर की पत्तियों को पीसकर तेल के साथ लेप लगा लें, इसके अलावा इसके गुंदे को लगाने से भी घाव ठीक हो जाता है। इसका नियमित सेवन करने से मसूड़ों के घाव भी भरने लगते हैं।

बेर फल सेवन फेफड़ों को स्वस्थ बनाये

बेर के जूस से खांसी, फेफड़ों से समन्धित रोगों और बुखार की समस्या को दूर किया जा सकता है। इस फल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेंटरी गुण होते हैं जो कई बिमारियों से छुटकारा पाने में मदद करता है।

बेर फल बालों के लिए फायदेमंद

आप शायद यह नहीं जानते होंगे कि बेर की पत्तियां कितनी फायदेमंद होती हैं। इनमें 61 तरह के आवश्यक प्रोटीन पाए जाते हैं। इनमें विटामिन सी, बी कॉम्प्लेक्स और केरिटलॉइड की भी अधिक मात्रा होती है। यह हमारे बालों को हेल्दी और घना बनाने में मदद करता है।

बालों के लाभकारी

बेर की पत्तियां भी बहुत फ़ायदेमदं होती हैं। इनमें प्रोटीन, विटामिन सी, केरिटलॉइड और बी कॉम्प्लेक्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो बालों को घना कला और स्वस्थ बनाने में मदद करते हैं। बेर की पत्तियों के साथ अगर आप नीम की पत्तियों को पीसें और फिर अपने बालों पर लगा दें तो आप बालों के झड़ने की समस्या से निजात पा सकते हैं।

बेर के नुकसान – Ber Ke Nuksan in Hindi

  • बेर के ऊपर की स्किन जल्दी से पचती नही इसलिए बेर को थोड़ी देर चबा के खाये और सावधानी बरतें।
  • यदि आप मधुमेह के रोगी हो तब आपको बेर का सेवन सिमित मात्रा में ही करना चाहिए। क्योंकि यह आपके लिए हानिकारक हो सकता है
  • अगर आपको मधुमेह है तो आपको इसका सेवन ज्यादा नही करना चाहिए।
  • बेर खाने के बाद बेर के कण दांतों में फंस जाते हैं। जिसके कारण आपको कैविटी का सामना करना पड़ सकता है। इससे बचने के लिए आपको बेर खाने के बाद ब्रश करना चाहिए।
  • बेर का अधिक सेवन करने से गैस की समस्या पैदा हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here