पल्स पोलियो पर सर्वश्रेष्ठ हिंदी स्लोगन ! Slogan on Pulse Polio in Hindi

Pulse Polio Slogan in Hindi: पोलियो या पोलियामाइलिटिस – बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं एक संक्रामक रोग है जो एक ऐसे वायरस से उत्‍पन्‍न होता है जो गले तथा आंत में रहता है। पद पोलियोमाइलिटिस एक ग्रीक शब्‍द पोलियो से आया है जिसका अर्थ है ”भूरा”, माइलियोस का अर्थ है मेरु रज्‍जु और आइटिस का अर्थ है प्रज्‍जवलन। यह आम तौर पर एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में संक्रमित व्‍यक्ति के मल से फैलता है। यह नाक और मुंह के स्राव से भी फैलता है। पोलियो की महामारी 19वीं शताब्‍दी के अंत तक फैलनी आरंभ नहीं हुई थी, जबकि साक्ष्‍य दर्शाते हैं कि पोलियो प्राचीन समय में मौजूद था। यहाँ पर हम कुछ बेहतरीन पल्स पोलियो पर नारे प्रस्तुत कर रहे हैं जिनकी मदद से आप कई लोगों को जागरूक कर सकते हैं। 

Pulse Polio Slogans in Hindi सिर्फ दो बूंद ज़िन्दगी के

पल्स पोलियो पर सर्वश्रेष्ठ नारे – Slogan on Pulse Polio in Hindi

1. बच्चों को बचाना है, तो पोलियों डोज दिलाना है!!

2. आइये हम सब मिलकर पोलियों को मिटाये!!

3. पूरा तभी आपका प्यार, जब मिले बच्चो को वक्त पे पोलियों का खुराक!!

4. पोलियों का इलाज़ नहीं, दो बूंद हर बार है बचाव सही!!

5. उठो, पोलियों बूथ चलो!!

6. पोलियों डोस पिलावो, देश को बचाओं!!

7. हम है पोलियों के सिपाही, अब ना होंगी पोलियों से तबाही!!

8. जब आये पोलियों की बारी, माता – पिता की है ये जिम्मेदारी!!

9. पोलियों डोस पिलाना है, देश को हमें बचाना है!!

10. समय पर प्रतिरक्षण, बच्चें को दे सुरक्षित जीवन!!

11. सिर्फ दो बूंद जिंदगी के!!

12. एक बूंद की ताकत से, देश दौड़ेगा पैरों से!!

13. बंद करो पोलियो, टीकाकरण करो!!

14. दो बूंद पोलियो पिलाओ,बच्चे की जिंदगी खुशहाल बनाओ!!

15. समय पर प्रतिरक्षण, बच्चें को दे सुरक्षित जीवन!!

16. पूरा तभी आपका प्यार, जब मिले बच्चे को वक्त पे पोलियों की खुराक!!

17. पोलियों डोस पिलाना है, देश को हमें बचाना है!!

18. उठो, पोलियो बूथ चलो!!

 

loading...

About Achi soch

achisoch.com पर आपको Self improvement, motivational, Study tips के अलावा Health, Beauty, relationship की भी जानकारी मिलेगी। किसी भी टिप्स या नुस्खे को आजमाने से पहले आप अपने डॉक्टर से जरूर जानकारी लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है।

View all posts by Achi soch →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *