नींद न आये तो क्या करें – नींद लाने के घरेलू उपाय

Neend Na Aaye to Kya Kare: रात को नींद ना आना या बार-बार नींद का खुल जाना, आज के समय में बहुत बड़ी समस्या है। ऐसा सब की ज़िंदगी के किसी ना किसी मोड़ पर होता है, इसके लिए अनेक कारण हो सकते है। इंसानी शरीर को नींद की उतनी ही ज़रूरत है जितनी खाने-पीने की। नींद का ना आना बीमारी का संकेत हो सकता है। इसलिए गहरी नींद मे सोने की कोशिश ज़रूर करनी चाहिए।

हर उम्र में शरीर की नींद को लेकर ज़रूरत बदलती है। छोटे बच्चे 18 घंटे तक सोते है, वही जवान व्यक्ति को लगभग 8 घंटे की नींद की ज़रूरत होती है। नींद पूरी होने पर थकान होने लगती है और कुच्छ भी करने में मन नहीं लगता। ऐसा इसलिए है की नींद में दिमाग़ की सफाई होती है। ऐसा ना होने पर वह ठीक से काम करना बंद कर देता है। तो चलिए बात करते है उन तरीक़ो की जिससे आप रात को चैन की नींद सो सकते है। इस लेख में हम आपको नींद आने के आसान घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं।

Raat me Neend Na Aaye to Kya Kare - Karan Aur Gharelu Upay

क्यों जरूरी है नींद?

चिकित्सा शस्त्र के अनुसार हफ्ते में 3 बार पूरी रात ना सोने को नींद ना आने की बीमारी समझा जाता है। लेकिन डॉक्टर की हेल्प लेने या दवा खाने से पहले लोगो को जीवन पध्हती में बदलाव का सहारा लेना चाहिए। अच्छी नींद के लिए हेअल्थी जीवन ज़रूरी है। नियमित रूप से पौष्टिक आहार करना और शाम को ज़्यादा ना खाना हेल्प कर सकता है। कुच्छ घरेलू उपचार फयदेमंद हो सकते है।

नींद ना आने के कारण:- अनिद्रा के 2 कारण होते हैं 1. शारीरिक और 2. मानसिक (physically, mentally) .

  • ज्यादा तनाव या डिप्रेशन
  • अधिक चिंता लेना
  • ज्यादा सोचना
  • रात देर तक मोबाइल इस्तेमाल करना
  • कम नींद लेने की आदत
  • मानसिक परेशानी या विकार
  • अनियमित जीवन
  • सोने के माहौल में बदलाव
  • उत्तेजक पदार्थों का सेवन

नींद लाने के उपाय – अनिद्रा का इलाज

1. शराब से दूरी रखें

नींद ना आने पर कुछ लोग शराब का सहारा लेने लगते है। लेकिन डॉक्टर इस आदत को ग़लत बताते हैं। अगर एक गिलास बियर या वाइन ली जाए तो ठीक है, लेकिन सोने से ठीक पहले इससे ज़्यादा शराब लेने से शरीर उसे पचाने के काम में लग जाता है। रेगेनसबूर्ग यूनिवर्सिटी में जैविक मनोविज्ञान के प्रोफेससेर Yugern sulai कहते है ” एलकोहल गहरी नींद और सपने के चक्र को छेड़ता है और नतीजा पसीना आना, दिल की धकदन बढ़ना और बार-बार नींद का खुलना हो सकता है.” रोज पीने से नशे की लत भी हो सकती है।

Yoga Kaise Kare – Yoga Ke Fayde

2. Physical Effort

खाने पर ध्यान देने के अलावा नियमित एक्सर्साइज़ करना भी लाभकारी होता है। शारीरिक एक्सर्साइज़ शरीर को ताकत देता है और आराम की ज़रूरत बढ़ता है। नियमित खेलकूद करना या टहलना शरीर को चुस्त रखता है और सोने में हेल्प करता है। इसके अलावा योग और मेडिटेशन के ज़रिए तनाव कम किया जा सकता है। Physical efforts या meditation तकनीक के ज़रिए तनाव को घटाकर सोने की क्षमता बढ़ता है।

Meditation Kaise Kare – Dhyan Ekagrata Tips in Hindi

3. New Technology Ne छीन ली नींद

TV, Cellphone और laptop की कीमत में अब नींद भी जुड़ गई है। हर इंसान की ज़रूरत बनते जा रहे है। ये गॅडजेट्स लोगो से उनकी नींद छीन रहे हैं। तकनीक का विकास लोगो को उनकी दैनिक ज़िंदगी की ज़रूरी चीज़ो से दूर ले जा रहा है।

4. सोने का टाइम फिक्स करे

हम आदतो से बढ़े होते है और हमारी नींद भी इसका अपवाद नहीं है। एक स्वस्थ शरीर के लिए 7 से 8 घंटे की नींद की ज़रूरत होती है। इसके लिए ज़रूरी है कि नियमित समय पर बिस्तर पर जाए और समय पर छोड़ दें। इस तरह यदि हम नींद के नियमित नियमों का पालन करने लगते है, तो इससे हमारे शरीर की प्राकृतिक घड़ी, हमारी नींद स्टार्ट करने और बनाए रखने में मददगार होती है।

5. चेक करें आपका बेडरूम आरामदायक है या नहीं

शोध से पता चला है की शांत वातावरण में सोने से नींद अच्छी आती है। अधिक शोर या रोशनी में सोने से नींद कई बार रात को टूटती है। हम उन डिप्रेशन को कम सकते है। इसके अलावा, बेडरूम आराम के लिए एक जगह होनी चाहिए तनाव का स्रोत नहीं।

6. सोने के 2 से 4 घंटे पहले चाय, बीड़ी, तम्बाकू का सेवन मत कीजिये

चाय, कॉफी, सोडा में तो कॉफिन होती है, साथ ही चॉकलेट जैसी चीज़ो मे भी पाई जाई है। एक उत्तेजत के रूप मे ये आपको जगा के रखेगी, यहा तक की अगर आपने सोने के 6 घंटे पहले भी खाया है। इसी तरह निकोटिन आपकी नींद को बाधित करेगा। ये एक ग़लत अवधारणा है कि सोने से पहले शराब पीने से नींद अच्छी आती है। उल्टी होता यह की शराब पीकर सोने से अच्छी नींद नही आती। आप उनीदा महसूस करेगे पर सो नहीं पाएँगे।

7. दिन में सोना बेकार

अगर हम रात में ज्यादा नींद लेते है तो दिन मे झपकी लेने की ज़रूरत नही है। अगर हम दिन मे एक झपकी ले लेते है तो रात में सोना कठिन हो जाएगा। जो लोग रात मे ज्यादा नींद लेते है उन्हें दिन में झपकी लेने की ज़रूरत नहीं है। अगर आप पूरी रात आराम से सोते है और दिन मे भी सोने की इच्छा रखते है तो इसका मतलब है की सोने का विकार के लक्षण हो सकते है।

8. सोने के पहले कुछ पढ़िए ये सुनिए

बच्चे हों या जवान एक नियम बना लें कि सोने के पहले या तो संगीत सुनेंगे या कोई किताब पढ़ेंगे या भी हो सकता है की सोने से गर्म पानी से नहाए। एक गिलास गर्म दूध पीकर बिस्तर पर जाए, इसमे दिनभर की थकान मिट जाएगी और नींद अच्छी आएगी।

9. रोज व्यायाम करें

रात मे अच्छी नींद लेने का सबसे अच्छा तरीका है दिन भर क्रियाशील रहना और शारीरिक रूप से फिट रहना। लेकिन सोने से पहले व्यायाम मत करिए, ऐसा करने से नींद आने मे तकलीफ़ होगी। क्यूंकि व्यायाम करने से शरीर तरोताजा हो जाता है।

10. जबरदस्ती नहीं करें

वो लोग जिन्हे नींद नहीं आती और वे बिस्तर पर ज़बरदस्ती सोने की कोशिश में करवटें बदलते रहते है. अगर यही क्रम दर रात जारी रहे। तो बिस्तर पर लेटते ही एक तनाव सा घेर लेता है और नींद नहीं आती। अगर बिस्तर पर लेटने के 15 मिनट के अंदर आपको नींद ना आए तो वॉया से उठकर किसी दूसरी जगह लेट जाइए और जब आपको लगे की अब नींद आ रही है तो उठकर अपने बिस्तर जाकर सो जाइए।

11. ध्यान दें

सीने में जलन और एसिडिटी के कारण रात में कई बार उठकर पेशाब करने जाना, बार-बार उठाने से नींद खराब हो सकती है। ऐसी अवस्था से बचने के लिए बेहतर होगा कि बिस्तर पर जाने के कुच्छ घंटे पूर्व से कुछ भी खाया-पिया ना जाए। कहने का फैक्ट यह है कि रात का खाना जल्दी खाया जाए और उसे पचाने के लिए शरीर को कुच्छ घंटे दे दिए जाए ताकि आप आराम से सो सकें।

12. दिन की गतिविधियों के लिए नींद का बलिदान मत करिए

सबसे प्रमुख बात यह है कि आपके शरीर को नींद की ज़रूरत होती है और आपको उसका सम्मान करना चाहिए। अनेकों बार ऐसा होता है कि दिन का काम टाइम पर नहीं निपटा पाते और देर रात तक करते रहते हैँ। इसके अलावा हमारे मनपसंद काम जैसे कोई टीवी सीरियल देखना, इंटरनेट पर गेम खेलना, बाहर खाना खाने जाना, इसके अलावा भी ऐसी बहुत सी चीज़े होती जिनके लिए हम नींद की अनदेखी करते है। जबकि ज़रूरत यह है की हम नींद का सेदुले  बनाए उस पर दृढ़ता से टीके रहें। कोई फ़र्क पड़ता दिन के मसले दिन मे सुलझाए और रात को चैन से सोए।

अच्छी नींद के लिए आसान घरेलु उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे 

  • के गिलास गर्म दूध में एक चौथाई चम्मच दालचीनी पाउडर मिलकर रात को सोने के एक घंटे पहले पी लें।
  • ताजा मेथी की पत्तियों को पीसकर जूस तैयार करें और रोज दो चम्मच शहद के साथ सेवन करें।
  • नींद लाने के लिए और रिलैक्स होने के लिए रोज सोने से पहले एक कप कैमोमाइल टी का सेवन करें। स्वाद बढ़ाने के लिए आप उसमे दालचीनी और शहद भी दाल सकते हैं।
  • केसर की दो लड़ों को एक कप गर्म दूध में मिलकर रोज सोने से पहले सेवन करें।
  • एक चौथाई जायफल के पाउडर को एक गिलास गर्म दूध में घोलें और सोने से पहले सेवन करें।
  • एक केले को मसलकर उसमे एक चम्मच जीरे का पाउडर मिला लें और रोज सोने से पहले सेवन करें। जीरे के पाउडर बनाने के लिए उसे सुखाकर भून लें और फिर पीसकर पाउडर बना लें।
  • आधा चम्मच वेलेरियन के रस को एक कप पानी में मिलकर पी लें। इस उपाय को दिन में दो से तीन बार करें।
  • दो चम्मच एप्पल साइडर विनेगर को एक गिलास शहद में मिलकर टॉनिक के रूप में रोजाना एक चम्मच सेवन करें।

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *