हस्तमैथुन के नुकसान – Masturbation Side Effect In Hindi

हस्तमैथुन के नुकसान हिंदी में: हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने के लिए हमने आपको पहले ही बताया। वैसे हस्तमैथुन के फायदे होते हैं लेकिन अगर आप इसे सही तरह से करें। अगर आप ज्यादा से ज्यादा हस्थमैथुन करते हैं तो इससे आपको शारीरिक और मानसिक रूप से नुक्सान होते हैं। हस्तमैथुन से आप बच तो नहीं सकते लेकिन अगर आप इसे कम कर दें तो आपके शरीर के लिए लाभकारी होगा। आज हम आपको हस्थमैथुन से होने वाले बड़े नुकसान बताने जा रहे हैं। जानिए Masturbation Side Effect in Hindi क्या हैं।

Masturbation Hastmaithun ke Nuksan Side Effect In Hindi

हस्तमैथुन के नुकसान साइड इफ़ेक्ट इन हिंदी

जवानी में हस्तमैथुन की शुरुवात सबसे ज़्यादा होने की संभावना रहती है और होने पर दिन में बार-बार हस्तमैथुन करने का मन करता है। आमतौर पर मैथुन करने के लिए पुरुष अपने हाथ का इस्तेमाल करते हैं। वैसे तो हस्तमैथुन के कोई नुकसान नहीं हैं। लेकिन कई बार ग़लत ढंग से या ज़्यादा से ज़्यादा करने पर बहुत नुकसानदायक है।

1. लिंग में सूजन होना

कई लोग जल्दबाजी के चक्कर में तेजी से हस्तमैथुन कर लेते हैं।जल्दी-जल्दी मैथुन करने से भी लिंग की मांसपेशियों में वीर्य के पहले निकलने वाला पानी मांसपेशियो में चला जाता है, जिसके कारण लिंग मे सूजन आ जाती है। यह सूजन तब तक रहती है, जब तक वह पानी वापस रक्त में नहीं चला जाता।

2. मांसपेशियों का टूटना

मैथुन करते समय अपने लिंग को कस कर दबाने या मोड़ने का प्रयास हानिकारक हो सकता है इससे ‘पयरोनी’ नामक बीमारी हो सकती है। यही नहीं पनैल फ्रॅक्चर भी हो सकता है यानी आपके लिंग की मांसपेशिया टूट सकती है। पयरोनी होने पर लिंग टेढ़ा हो जाता है। मांसपेशियो में तनाव होने की पोज़िशन में आप उसके टेढ़ेपन को आसानी से देख सकते है।

3. शुक्राणु की संख्या पर असर

नियमित रूप से कई बार हस्तमैथुन करने से पुरुषों मे शुक्राणु की संख्या कम होने लगती है। इसका असर उनकी पिता बनाने की क्षमता पर भी पड़ता है। अगर आपके अंदर शुक्राणु कम हो गए तो आप तनाव में आ जायेंगे और आपकी सेहत शारीरिक और मानसिक रूप से ख़राब रहेगी।

4. Psychological Effects

हस्तमैथुन घबराहट और neurological problem create करता है। हस्तमैथुन आपके मन और आत्मा में तनाव और दबाब का कारण बनता है। इसके अलावा हस्तमैथुन आपको psychologically तौर पर effect करता है। यह रस्खलन के बाद अवसाद पैदा करता है। और व्यक्ति खुद को बुरा महसूस लगता है।

5. Lack of satisfaction

नियमित रूप से हस्तमैथुन करने से आपको संतुष्टि होने में अधिक समय लगता है। इसके साथ ही आपका वीर्य रसखलित होने का समय भी बढ़ जाता है। इसके अलावा हस्तमैथुन की आदत erectile dysfunction रोग का प्रमुख कारण होती है।

6. Discovered Illegal Contacts

हस्तमैथुन आपको अवैध सम्बन्धों की ओर ले जाता है क्युकी इसकी उत्तेजना दिन बे दिन बढ़ती है और अंत में यौन सुख के लिए आप अन्य सोर्स को ढूढ़ने लगते है। इसलिए इस समस्या को जितना कम करोगे उतने ही फायदे में रहोगे।

7. Partner से तकरार

हस्तमैथुन संभोग के दौरान तेज़ी से स्पर्म के रिलीज होने का प्रमुख कारण है। इससे आपके और आपकी पत्नी के बीच असंतोष पैदा हो सकता है। बहुत से लोग पार्टनर के बीच झगड़ा होने की वजह से हस्तमैथुन की और रुख बढ़ा देते हैं जिससे उन्हें हस्तमैथुन को और सुख नजर आने लगता है।

8. The Effect on Metabolism

हस्तमैथुन के दौरान जारी प्राइमरी लिक्विड में प्रोटीन होता है जो कई चयापचय Activities और सेल स्टार्च के लिए आवश्यक होता है। प्रोटीन हमारे शरीर की building block है। रस्खलन अक्सर आपको दुबला करता है। और मांसपेशियो के निर्माण के लिए चयापचय का ध्यान खिचता है।

हस्तमैथुन की लत से छुटकारा कैसे पाएं?

 

Comments (4)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *