Hastmaithun Ke Fayde in Hindi हस्तमैथुन के फायदे

Masturbation Benefits in Hindi: लोगो को लगता है की रोजाना हस्तमैथुन करने से अंधापन, हाथों पर बालों का बढ़ना, सेक्स लाइफ बर्बाद होना जैसी प्रॉब्लम्स होने लगती है। वैसे तो अगर आप हद से ज्यादा हस्तमैथुन करते हैं तो इसके नुकसान भी हैं। लेकिन अगर आप एक सही तरीके से हस्तमैथुन करते हैं तो इसके बहुत सारे फायदे भी हैं जिनके बारे में हम आपको नीचे विस्तार पूर्वक बताने जा रहे हैं। साइंटिस्ट के रिसर्च से पता चला है की हस्तमैथुन स्वास्थय के लिए बहुत अच्छा है। जानिए हेल्त साइट के मुताबिक हस्तमैथुन क्यों अच्छा है।

Hastmaithun Ke Fayde in Hindi हस्तमैथुन के फायदे - Musturbation Benefits

हस्तमैथुन के फायदे – Masturbation Benefits in Hindi

बहुत से लोग तो इस बात को स्वीकार ही नहीं करते कि हस्तमैथुन करते है जबकि वास्तव में ऐसा करते है। आप अगर सोच रहे होंगे की ऐसा सिर्फ़ इंडिया में ही होता है तो आप ग़लत है। बल्कि कई देशो में Masturbation किसी ताइबू से कम नहीं है। लेकिन आपको इसके फायदे के बारे मे पता होना चाहिए।

1. स्पर्म काउंट बढ़ते हैं

कई शोध से यह बात साबित कर चुकी है कि हस्तमैथुन से स्पर्म काउंट बढ़ते है, और उनमे गतिशीलता आती है। हस्तमैथुन के ज़रिए आप पुराने स्पर्म से नये स्पर्म को बदलते है, जो कि fertility के लिए अच्छा होता है।

2. तनाव दूर करे

बेशक हस्थमैथुन कुच्छ नहीं होता लेकिन ये तनाव को दूर करने का और ऊर्जा बढ़ाने का बेहतरीन उपाय है। Masturbation के ज़रिए dopamine और cytosine हार्मोंस रिलीज होते है। जिससे उत्तेजना महसूस होती है। इतना ही हस्तमैथुन करने से नींद भी बहुत अच्छी आती है।

3. यौन संक्रमण की समस्या से बचाव

Masturbation का सबसे बड़ा फायदा ये है कि STD या यौन संक्रमण होने की समस्या बिल्कुल भी नहीं होती। ये उत्तेजना महसूस करने का सबसे अच्छा और सुरक्षित ज़रिया है।

4. प्रोटेस्ट कैंसर का खतरा दूर

2003 की एक ऑस्ट्रेलियन स्टडी के मुताबिक जो आदमी 1 सप्ताह में कम से कम 4 बार हाथमैथून करते है, उनमे प्रोटेस्ट कॅन्सर होने की संभावना कम हो जाती है। वास्तव में हस्तमैथुन करने से कैंसर के सेल्स निकल जाते है।

5. प्रेमेच्योर एजुकेशन की प्रॉब्लम्स से दूरी

हस्तमैथुन के ज़रिए प्रेमेच्योर की समस्या से निजात पाई जा सकती है। यहाँ तक कि इससे सेक्स के दौरान एजुकेशन पर पूरी तरह से नियंत्रण पाया जा सकता है।

6. Positive Mental Label 

जब आप हस्थमैथुन के समय क्लाइमेक्स पर होते है तब हॉर्मोन्स रिलीस होते है। इस हॉर्मोन्स के रिलीस के बाद बैचानी ख़त्म हो जाती है और मानसिक शांति मिलती है।

7. Sexual Dis-function पर काबू

यदि पुरुष या महिला सेक्सुअल डिस-फंक्शन से पीड़ित है तो हस्तमैथुन से कई चीज़े समझ सकते है। यदि पुरुषों में सम-भोग के समय वक़्त से पहले स्पर्म गिरने के समस्या है तो हस्थमैथुन को लर्निंग टूल की तरह इस्तेमाल कर सकते है। आप इसमें सिख सकते है की खुद पर कंट्रोल कैसे किया जाता है।

8. Enjoy Fully

पुरुषो के मुक़ाबले महिलाओ का चरम आनंद ज़्यादा काम्प्लेक्स होता है। पुरुषो को नॉर्माली स्पर्म निकलते वक़्त आनंद आता है। अधूरी उत्तेजना और ग़लत सेक्स टेक्नीक महिलाओ की आरगेज़म को कम करता है। वक़्त से पहले स्पर्म का गिरना और फॉरपले में कमी महिलाओ के आनंद को कम करता है।

Comments (1)

  • masturbation करने से संतान प्राप्ति मे कोई तकलीफ़ नही होती

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *