दिल का दौरा पड़ने के लक्षण और बचने के उपाय एवं उपचार

हार्ट अटैक जिसे हिंदी में दिल का दौरा कहा जाता है एक खतरनाक बीमारी है। जब हमारे दिल तक खून नहीं पहुँचता है तो दिल का दौरा पड़ने की सम्भवना बढ़ जाती है। इसका सही समय पर उपचार नहीं किया जाय तो व्यक्ति को मौत तक हो जाती है। इस रोग से बचने के उपाय जानने से पहले आप दिल के दौरे पड़ने के कारण और लक्षण जान लें जो हम आपको नीचे विस्तारपूर्वक बताएँगे। यह बहुत बड़ी बीमारी है जिसका इलाज बहुत महंगा होता है। इसलिए दिल के दौरे से बचने के घरेलू उपाय और प्राकृतिक तरीके जाने जिससे आप इस बीमारी को काफी हद तक कम कर सकते हैं। Natural home remedies treatment of Heart Attack tips in Hindi. 

Dil Ki Bimari Heart Attack Se Bachne ke Upay in Hindi दिल के दौरे से बचने के घरेलु उपाय

दिल का दौरा पड़ने के लक्षण – Heart Attack symptoms in Hindi

सबसे पहले आपको जानना होगा की दिल का दौरा पड़ने पर आपको क्या होता है। इसी से आप जान सकते हैं कि वास्तव में यह हार्ट अटैक है।

  • सांसो का फूलना
  • ठंडा पसीना आना
  • उल्टी आना
  • सिने मे जलन होना
  • पेट मे दर्द रहना
  • बेहोशी आना
  • थकान होना
  • घबराहट रहना
  • सांसों का फूलना
  • हाथों, कन्धों, कमर में दर्द का अहसास होना

दिल का दौरा पड़ने के कारण – Risk Factors of Heart Attack in Hindi

हार्ट अटैक पड़ने का प्रमुख कारण हमारी जीवन शैली और खान-पान है। शारीरिक काम ना करने से रक्त का संचार सही तरीके से नहीं हो पाटा है। इसके अलावा कारण निम्न प्रकार से हैं..

  • धूम्रपान
  • व्यायाम या शारीरिक काम कम करना
  • वजन का ज्यादा होना
  • ज्यादा नशीली चीजों का इस्तेमाल
  • जंक फ़ूड और कोल्ड्रिंक ज्यादा सेवन करना
  • बढ़ती उम्र
  • असंतुलित आहार
  • कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना
  • मधुमेह से पीड़ित होना
  • उच्च रक्तचाप होना

दिल का दौरा पड़ने पर क्या करें – प्राथमिक उपचार

  • हार्ट अटैक होने पर रोगी को लिटा दें और जितना हो सके उसके आसपास खुला वातावरण रखें।
  • दिल का दौरा पड़ते ही रोगी को जोर-जोर से खांसने को कहें। इससे दिल पर जोर पड़ेगा और खून का प्रवाह दिल तक तेज होगा।
  • रोगी के कपड़े ढीले कर साहस करते हुए अपनी हथेलियों से रोगी के छाती पर तेज दबाब डालते रहें। हर दबाव के बाद छाती में मौजूद कम्प्रेशन को रिलीज करने का प्रयास करें।
  • इस प्रक्रिया को करते रहें और डॉक्टर को तुरंत बुलाएँ।

दिल का दौरा (Heart Attack) रोकने के उपाय और प्राकृतिक तरीके

दिल के दौरे को कम करने के लिए आपको आपको कुछ बातों का ध्यान देना बहुत जरूरी हैं। ये टिप्स आपके शरीर को इस बीमारी से बचाने में मदद करेंगे। नीचे हम आपको राजीव दीक्षित के आयुर्वेदिक उपचार और देसी घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं जिससे आप हार्ट अटैक की सम्भवना कम कर सकते हैं।

1. रोजाना व्यायाम या जॉगिंग करें

शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ और मजबूत रहने का बेस्ट तरीका है कि आप रोजाना शुबह शाम खुली हवा में व्यायाम या रनिंग करें। इससे आपका शरीर मोटापा से ग्रसित नहीं होगा साथ ही शरीर में रक्त संचार सुचारु रूप से चलेगा जिससे आपका दिल में खून का प्रवाह सही से होगा और आप इस बीमारी पर रोकथाम लगा सकते हैं।

2. ज्यादा तैलीय और मसालेदार भोजन से बचें

शरीर को ज्यादा वसा मिलने से मोटापा जल्दी बढ़ता है जो बिमारियों का खजाना है। अपने दिल को सही रखने के लिए आप ज्यादा तले और मसालेदार भोजन नहीं करें।

3. मोटापा कम करें

दिल का दौरा ज्यादातर मोटे व्यक्तियों को होता है, मोटा होना मतलब आप शारीरिक परिश्रम नहीं करते हैं और दिन भर बैठे ही रहते हो इससे आपका रक्त संचार सही से नहीं होता है। ज्यादा वजन होने से हार्ट को ज़्यादा ब्लड और ज़्यादा उर्जा पंप करनी पड़ती है। जिससे आपने नज़ूक दिल पर ज़्यादा दबाब पड़ता है।

4. तनाव या चिंता कम करें

ज्यादातर इस बीमारी का प्रकोप उन व्यक्तियों पर होता है जो ज्यादा तनाव या चिंता में रहते हैं। तनाव लेने से मन में नकारातमक भावनाएं बढ़ती हैं जिससे शरीर में साइटोकिन्स नमक केमिकल की मात्रा बढ़ती है जो दिल की बीमारी को बढ़ाने में मदद करता है। तनाव में रहने से आदमी धूम्रपान, शराब का सेवन करने लगता है जोकि आपके दिल के लिए खतरनाक हैं।

5. टॉइलट को दबाएं नहीं

जब भी आपको पेशाब या मल करने को दिल करे तो तुरंत कर लें इसे दबाने से दिल पर बुरा असर पड़ता है जो दिल की बीमारी का कारण बनता है।

6. पूरी नींद लें

नींद कम लेना भी हमारे शरीर को नुक्सान पहुँचता है। जिन व्यक्तियों में नींद की कमी या सोते समय सांस का फूलना की समस्या हो उनके फेफड़ों और धमनियों के डैमेज होने की संभावना बढ़ती है जिसका असर दिल पर पड़ता है। इसलिए कम से कम 7-8 घंटे सोना शरीर के लिए लाभदायक होता है।

 7. धूम्रपान से बचें

धूम्रपान करने से हमारे फेफड़ों और दिल पर बुरा असर पड़ता है। शोध से पता चला है कि दिल का मरीज अगर धूम्रपान छोड़ दे तो हार्ट अटैक की संभावना काफी कम हो जाती है। इससे सांस लेने में ज्यादा तकलीफ होती है और रक्त का प्रवाह में भी दिक्कत आती है।

 8. दिल को मजबूत करने वाले आहार खाएं 

दिल के लिए फायदेमंद आहार का सेवन करें जिससे हार्ट अटैक की संभावना कम हो। अपने भोजन को संतुलित करें और सही समय पर भोजन करें। भोजन में आप विटामिन, मिनरल्स, फैबिएर जैसे पौष्टिक तत्वों का सेवन करें जिनमे कैलोरी की मात्रा कम हो।

  • ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों का सेवन करें।
  • फलों में आप खट्टे फल ज्यादा खाएं।
  • ज्यादा मीठे और ज्यादा फैट वाले फल नहीं खाएं।
  • ज्यादा नमक और ज्यादा मिर्च का सेवन नहीं करें।
  • ज्यादा तले हुए भोजन का सेवन नहीं करें।
  • अपने खान-पान में आप आम, अन्नानास, मौसमी, लीची, सेब का इस्तेमाल करते रहे। सब्जियों में आप अरबी, चौलाई का सेवन ज़रूर करे।

दिल के दौरा का इलाज के घरेलू नुस्खे – Home Remedies for Heart Attack in Hindi

  1. मिश्री और सूखा आवला को बराबर मात्रा मे पीसकर एक चमच रोज पानी के साथ लेने से दिल की बीमारी दूर होती है।
  2. नींबू को पानी में निचोड़कर कुछ दिनों तक नियमित सेवन करें। ऐसा करने से दिल की बीमारी से मुक्ति मिलती है और दिल मे जमी हुई गंदगी दूर हो जाती है।
  3. 50 ग्राम उड़द की दाल रात को बर्तन मे भिगो लें और सुबह इसको पीसकर आधा गिलास दूध मे मिश्री घोलकर पीते रहने से दिल की कमज़ोरी दूर होगी और दिल को दौरे पड़ने की संभावना ना के बराबर हो जाएगी।
  4. दूध मे पीसा हुआ आवलाँ घोलकर पीने से heart रोग की problem दूर होती है। यह एक दिन मे दो बार पीने से लाभ होता है।
  5. ठंड के मौसम में 3 से 4 काली मिर्च, चार बादाम और 5 से 6 तुलसी के पत्तो को पीसकर आधे कप पानी में डालकर पीते रहने से कुछ ही दिनों में दिल की कमज़ोरी दूर हो जाएगी।
  6. विटामिन और फाइबर की वजह से बादाम दिल की बीमारी को दूर करने मे हेल्प करता है। कोशिश करें की बादाम की गिरी दिन मे 2 से 3 बार सेवन करें।
  7. गाजर के रस में थोड़ा सा शहद मिलाकर पीने से दिल स्वस्थ और मजबूत रहता है।
  8. लौकी का सेवन करना भी दिल की सेहत के लिए फयदेमंद होता है। लौकी को उबालकर उसमे जीरा, हल्दी का पाउडर और हरा धनिया डालकर कुछ देर तक पकाकर खाए। यह हार्ट अटॅक दिल को बचने में लाभकारी होता है।
  9. सरसो के शूध तेल से ही भोजन बनाए। खाने मे दही की मात्रा बढ़ाए, साथ ही शहद का सेवन करने से भी दिल की दुर्बलता दूर होती है।
  10. सूखा धनिया और अलसी के पत्तों का काढ़ा बनाकर रोज पीने से दिल मजबूत होता है।

हार्ट अटैक से बचने के लिए बाबा रामदेव योग टिप्स

रोजाना योग या प्राणायाम करने से भी आप दिल के दौरे से बच सकते हैं। इससे आपके शरीर में रक्त संचार सही से होता है औरआप कई बिमारियों, तनाव से भी बचते हैं।

  1. कपालभाति प्राणायाम
  2. भ्रामरी प्राणायाम
  3. अनुलोम विलोम
  4. भस्त्रिका प्राणायाम
  5. ताड़ासन
  6. स्वस्तिकासन

इन प्राणायाम करने से आप दिल की बीमारी से बच सकते हैं। इन योगासन को करने के लिए आप बाबा रामदेव के वीडियो देख सकते हैं और अपने घर पर ही कर सकते हैं।

ये हैं दिल के दौरे का इलाज के घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे। इन्हे अपनाइये और खुद को निरोगी बनाइये। इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Comments (2)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *