गुस्से पर काबू पाने के आसान उपाय ~ Tips to Control your Anger in Hindi

क्रोध यानि गुस्सा बुद्धि और विवेक का दुश्मन होता है। कभी-2 आदमी अपने गुस्से के कारण अपने family, friends और relatives से दूर ही नहीं बल्कि उन्हें अपना दुश्मन बना लेता है। गुस्सेबाज आदमी न तो किसी office या न अपने घर में शांति से रहता है और ना ही रहने देता है। आप किसी भी उम्र के शादी शुदा हो या कुवारे, बच्चे हो या बूढ़े, क्रोध हर किसी की भी जिंदगी को बर्बाद कर देता है। कोई महिला हो या आदमी अगर उसका व्यवहार गुस्से वाला है तो वह दूसरो के साथ साथ खुद को भी हानि पहुँचता है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे है कैसे अपने गुस्से को काबू में लाये और सबसे साथ हसी-खुसी रहे।

Gusse Par Control Karne Ke Gharelu Upay

गुस्सा कैसे कम करें : गुस्सा कम करने के उपाय

गुस्से को कम करने से पहले आपको ये जानना बहुत जरूरी है कि क्यों आपको इतना गुस्सा आता है, गुस्से को समझना बहुत जरूरी है। अगर आपको बिना किसी बात के गुस्सा आ जाता है तो यह आपको आदत बन गयी है। ऐसे में आपको अपने दिनचर्या पर बालदळाव लाना जरूरी है। अगर आपको बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और आप कुछ गलत कर बैठते हैं तो आपको अपने गुस्से को समझना जरूरी है। जब तक आप ये बात नहीं जानेंगे कि आपको बहुत गुस्सा आता है तो आप अपने गुस्से को कण्ट्रोल में नहीं कर पाएंगे। आपको अपने गुस्से पर काबू पाने के लिए सबसे पहले जानना होगा की आपको किन बातों से गुसा आता है। इसके लिए आप किसी नोटबुक पर लिख सकते हैं जब आप शांत होजायें फिर उन बातों को सोचें और उनसे निकलने की सोचें।

1. कुछ भी बोलने से पहले सोचें

अगर आपके किसी व्यक्ति के साथ झगड़ा पैशाच हो रहा हो तो आप उससे कुछ कहने से पहले यह जान लें की आप जो बोल रहे हैं वह सही है। आप उसे तेज आवाज में कुछ गलत तो नहीं बोलने जा रहे हैं जिससे आपके रिश्ते में और ज्यादा खटाश ना हो जाए। इसलिए कुछ भी बोलने से पहले ये सोचें की आपके मुँह से मीठी वाणी निकल रही या कड़वी।

2. गुस्सा आने पर खुद को वहां से दूर ले जाएँ

गुस्से पर काबू पाने का सबसे अच्छा पॉइंट है कि आप उस जगह को ही छोड़ दें। इससे यह फायदा है कि आपको आया गुस्सा कुछ देर रहेगा लेकिन वह आपके सामने नहीं होगा तो आपका गुस्सा कण्ट्रोल में हो जायेगा। और आपका दिल और दिमाग गुस्से के नुक्सान से बच जायेगा।

4. माफ करने की भावना रखें

किसी भी दूसरे पर गुस्सा आने की भावना को छोड़कर माफ़ करना सीखें। यह गुस्से पर काबू पाने का सबसे अच्छा टिप्स है। अगर आप उस व्यक्ति को बुरा-भला कहने से अच्छा आपकी गलती ना होने पर भी गलती मानते हैं तो आपका गुस्सा शांत रहेगा। या फिर उसकी गलती भी है तो उसे माफ़ करें ना की उसे कुछ गुस्से में कह जाएँ। इससे लोगों की नजरों में भी आप अच्छे व्यक्ति कहलायेंगे।

5. प्रेरणादायक किताबें पढ़े

ज्यादा गुस्से को काबू में पाने के लिए बहुत जरूरी है कि आप अच्छी प्रेरणादायक पुस्तकें पढ़ें। रोजाना अच्छी किताबें पढ़ने से आपके दिमाग में सकारात्मक विचार आएंगे और आप अपने मन को खुश देख पाएंगे।

6. मेडिटेशन करें

गुस्से को शांत करने के लिए मेडिटेशन एक बेस्ट तरीका है। मैडिटेशन करने से आपके दिमाग की कोशकाएँ अच्छे कार्य में काम करते हैं। इससे आपके दिमाग में फालतू के विचार नहीं रहते हैं। यह दिमाग की नसों को तरोताज़ा करने में सहायक सिद्ध होते हैं। व्यायाम आपको सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करता है और यह ऊर्जा आपको अच्छे विचार लाने में मदद करती है।

7. गेम्स खेलें या गाने सुनें

कभी भी किसी भी वक़्त अगर आपको गुस्सा आये तो आप गाना सुनना शुरू कर दें। संगीत सुनाने से आपका दिमाग अच्छा रहेगा। जब आप गाना सुनते हैं तो आपका ध्यान संगीत के रश्मो में चले जाता है। इसके अलाव आप गेम खेलें जो आपको अच्छे लगते हैं। गेम खेलने पर आपका ध्यान अपने खेल में जायेगा और आप बेवजह कुछ सोचने से बचेंगे।

8. नशीली चीजों का सेवन त्याग दें

दिमाग में नकारातमक विचार को दूर करने के लिए आप शराब, सिगरेट, तम्बाकू, या ड्रग्स का सेवन करना त्याग दें। ये सभी चीजें गुस्से को बढ़ावा देती हैं। इनसे ना सिर्फ आपका मन अशांत होगा बल्कि आपके सेहत पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा। इसलिए इन चीजों पर पैसे की बर्बादी ना कर अपने कुछ अच्छे काम पर लगाएं .

9. योग करें

अकसर ज्यादा गुस्सा करने वालों को यह शिकायत रहती है कि उनका दिमाग हमेशा ही गुस्से से गर्म रहता है। बस एक छोटी-सी चिंगारी ही उनके दिमाग में आग लगाकर रख देती है। तो ऐसे में आपको योग का सहारा लेना चाहिए। जब आप एक बार योग करना स्टार्ट कर दोगे तो अपने आप ही आपको कम गुस्सा आएगा और आप अपने आप को बेटर फील करोगे।

10. शांत जगह पर अकेले घूमें 

अगर आप ऐसे ग्रुप सर्कल में रहते हैं जहा हर छोटी-छोटी बातों पर बहस करते है, जल्दी गुस्सा करते है या लड़ाई करते है तो इससे आपका नेचर भी एसा हो जाता है इसलिए गुस्सा को कम करने का सही तरीका है कि आप किसी शांत जगह पर जाएँ और वहां जोर-जोर से चिलायें। ऐसा करने से आपके अंदर का गुस्सा बाहर आ जायेगा और आप का दिल एवं मन शांत महसूस करेगा। किसी दूसरे पर गुस्सा करने से बच जायेंगे और खुद भी अच्छा महसूस करेंगे। दोस्तों, गुस्सा शांत करने का यह तरीका बहुत अच्छा और कारगर है।

गुस्से पर काबू पाने के लिए घरेलू नुस्खे 

1. दो पके मीठे सेब बिना छिलके सवेरे खाली पेट चबा-चबाकर 15 दिन लगातार कहने से गुस्सा शांत होता है। बर्तन फैकने वाला, तोड़-फोड़ करने वाला और वाइफ और बच्चो पर हाथ उठाने वाला व्यक्ति भी अपने क्रोध से मुक्ति पा सकेगा। इसको खाने से दिमाग़ की कमज़ोरी दूर होती है और दिमागी शक्ति भी बढ़ जाती है।

2. रोजाना सवेरे आवले का एक पीस मुरब्बा खाए और शाम को एक चमच गुलकंद खाकर उप्पर से दूध पी लें। बहुत क्रोध आना जल्द ही कम हो जायेगा।

3. गुस्सा आने पर 2-3 गिलास खूब ठंडा पानी धीरे धीरे घूट-घूट लेकर पिए। पानी हमारे शारीरिक तनाव को कम करके क्रोध कम करने में मदद मिलती है।

4. गुस्सा बहुत आता हो तो धरती माता को रोज सुबह उठकर हाथ से 5 बार छूकर नमस्कार करे और सबसे गंभीर दिल धरती माँ से अपने गुस्से पर काबू करने और सहशील होने का बरदान माँगे।

5. रविवार को अदरक, टमाटर और लाल रंग के कपड़े गुस्सा अधिक बढ़ते है, इसलिए इनका कम से कम इस्तेमाल करें।

6. बहुत अधिक खट्टी, मसालेदार चीज़े खाने से आँखे जलती है, स्वाभाव मे चिड़चिड़ापन आता है, जल्दी गुस्सा आता है, सिने और पेट मे जलन होती है सो इन चीज़ो का त्याग कर देना चाहिए।

7. जिन्हे ज़्यादा गुस्सा आता हो उन्हे चाय, कॉफी, मदिरा से दूर रहना चाहिए ये शरीर को उत्तेजित करते है, उसके जगह पर लस्सी, मीठा दूध या नींबू पानी का प्रयोग करना चाहिए।

8. यदि गुस्सा आने वाला हो तो 5-6 बार गहरी साँस लीजिए, कुछ पल के लिए अपनी आँखे बंद करके भगवान का ध्यान करे उन्हे प्रणाम करें उनसे अपना कोई भी निवेदन करें।

9. जिस महिल का पति हर समय बिना बात के ही गुस्सा करता रहता है तो वह महिला शुक्ल पक्ष के पहले रविवार, सोमवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार किसी भी दिन एक नये सफेद कपड़े में एक डली गुड, चाँदी और तांबे के दो सिक्के, एक मुट्ठी नमक और गेहू को बांधकर अपने सोने वाले कमरे में कही ऐसी जगह चिपका कर रख दे जहाँ पति को पता ना चले. इसके इफ़ेक्ट से भी पति का गुस्सा धीरे-धीरे कम होने लगेगा।

10. सामान्य गुस्सा सामने वाले से ज़्यादा उम्मीद पालने से आता है। इसलिए कभी भी सामने वाले से बहुत ज़्यादा उम्मीद न पाले, जिससे आपकी बात ना मानने पर भी आपका दिलबिल्कुल ना दुखे।

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *